बस विस्‍फोट में अपने लोगों की मौत पर चीन ने पाकिस्‍तान से कहा, आतंकियों को ढूंढो वरना हम अपनी स्‍पेशल फोर्स को भेजेंगे

पाकिस्तान के खैबर पख्तूनख्वा प्रांत के अपर कोहिस्तान जिले के दासू इलाके में निर्माणाधीन दासू बांध परियोजना स्थल पर बस में हुए विस्फोट पर चीन ने सख्त रुख अपना लिया है। बता दें कि इस घटना में नौ चीनी नागरिकों और फ्रंटियर कॉर्प्स के दो सैनिकों सहित कम से कम 13 लोगों की मौत हो गई थी और 39 अन्य घायल हुए थे। विस्फोट के बाद बस गहरी खाई में गिर गई थी।

इस आतंकी हमले में चीनी नागरिकों के मारे जाने की घटना से पूर्व में हमेशा पाकिस्तान का समर्थन करता आया चीन भी अब उससे नाराज नजर आ रहा है। इस  घटना को लेकर चीन की सरकार के मुखपत्र ग्लोबल टाइम्स के संपादक हू शिजिंग ने एक ट्वीट में सीधे तौर पर पाकिस्तान की क्षमताओं पर सवाल उठा दिए हैं।

शिजिंग ने लिखा, ‘इस हमले के लिए जिम्मेदार कायर आतंकी अब तक सामने नहीं आ पाए हैं। लेकिन वे निश्चित रूप से खोजे जाएंगे और उन्हें में खत्म कर दिया जाना चाहिए। अगर पाकिस्तान की क्षमताएं पर्याप्त नहीं हैं तो इसकी अनुमति के साथ चीन की मिसाइलों और स्पेशल फोर्सेस को काम पर लगाया जा सकता है।’

गौरतलब है कि खैबर पख्तूनख्वा प्रांत के अपर कोहिस्तान जिला अंतर्गत दासू इलाके में निर्माणाधीन दासू बांध परियोजना स्थल के लिए चीनी इंजीनियरों और श्रमिकों को ले जा रही बस के अंदर विस्फोट होने से नौ चीनी नागरिकों और फ्रंटियर कॉर्प्स के दो सैनिकों सहित कम से कम 13 लोगों की मौत हो गई थी और 39 अन्य घायल हुए थे। विस्फोट के बाद बस गहरी खाई में गिर गई थी। जांच के लिए चीन ने पाकिस्तान के लिए रवाना किया विशेष दल
बता दें कि पाकिस्तान ने गुरुवार को कहा था कि मामले की प्रारंभिक जांच में विस्फोटकों के निशान मिलने की पुष्टि हुई है और आतंकवादी कृत्य से इंकार नहीं किया जा सकता है। वहीं, चीन ने गुरुवार को ही कहा था कि वह इस पूरे मामले की जांच करने के लिए अपना एक विशेष दल पाकिस्तान के लिए रवाना कर रहा है।

धमाके के कारण को लेकर चीन और पाकिस्तान की राय अलग
इस घटना के कारण को लेकर दोनों देशों की अलग-अलग धारणा है। पाकिस्तान का कहना है कि गैस का रिसाव होने से विस्फोट हुआ वहीं चीन ने इसे हमला बताया। ‘डॉन’ अखबार की एक रिपोर्ट के अनुसार एक चीनी नागरिक लापता है और उसकी तलाश हो रही है। हालांकि, इसकी आधिकारिक पुष्टि नहीं हुई है।
-एजेंसियां