हैती के राष्ट्रपति की पत्नी ने वॉयस मैसेज के जरिए बताया उस रात का वाकया

हैती के राष्ट्रपति जोवेनेल मोइज़ की घायल पत्नी ने पहली बार उस रात के बारे में बताया है जब राष्ट्रपति पर हमलाकर उनकी हत्या कर दी गई. इस हादसे में राष्ट्रपति की पत्नी भी गंभीर रूप से घायल हुई थीं.
हादसे के बाद से यह पहला मौक़ा है जब उन्होंने उस हादसे के बारे में बताया है जब हत्यारों ने आधी रात को उनके पति को निर्ममता से मार डाला.
दिवंगत राष्ट्रपति मोइज़ की पत्नी मार्टीन मोइज़ ने बताया कि हमला इतनी तेज़ी से हुआ कि उनके पति जोवेनेल “एक भी शब्द तक नहीं कह सके.”
सात जुलाई को कथित तौर पर 28 विदेशी भाड़े के सैनिकों ने राष्ट्रपति मोइज़ की हत्या कर दी.
इस जानलेवा हमले में राष्ट्रपति की पत्नी मार्टीन मोइज़ भी गंभीर रूप से घायल हो गईं थीं और उन्हें इलाज के लिए मियामी ले जाया गया था.
शनिवार को उन्होंने अपने ट्विटर पेज पर एक वॉयस मैसेज पोस्ट किया. जिसमें उन्होंने लोगों से वादा किया कि वो आगे भी अपना काम जारी रखेंगी. उस संदेश पर आयी प्रतिक्रियाओं में ज़्यादातर लोगों ने पुष्टि की है कि वह राष्ट्रपति की पत्नी की ही आवाज़ है.
उस हादसे को बयां करते हुए मार्टीन मोइज़ ने इस वॉयस मैसेज में बताया है, “पलक झपकते ही वो हमलावर मेरे घर में घुस गए और मेरे पति को गोलियों से छलनी कर दिया.”
वो आगे कहती हैं कि इस कृत्य को कोई नाम नहीं दिया जा सकता क्योंकि जोवेनेल मोइज़ जैसे राष्ट्रपति की हत्या एक खूंखार और बड़ा अपराधी ही कर सकता है.
वो आगे कहती हैं, “यहां तक ​​​​कि हमलावरों ने उन्हें एक भी शब्द कहने तक का मौका नहीं दिया.”
उनका मानना है कि उनके पति को राजनीतिक कारणों से निशाना बनाया गया, ख़ासतौर पर संविधान में बदलाव के मुद्दे को लेकर. जो राष्ट्रपति को अधिक शक्ति दे सकता था.
उन्होंने कहा, “मैं रो रही हूं..यह सच है लेकिन हम देश को रास्ता भटकने नहीं दे सकते.”
उन्होंने कहा, “हम राष्ट्रपति जोवेनेल मोइज़, मेरे पति, हमारे राष्ट्रपति, जिनसे हम बहुत प्यार करते हैं और जो बदले में हमसे प्यार करते थे, हम उनके खून को बर्बाद नहीं होने दे सकते.”
-एजेंसियां