यूक्रेन: स्वतंत्रता दिवस समारोह की रिहर्सल परेड वाली इस तस्‍वीर पर हंगामा

यूक्रेन में रक्षा मंत्रालय के एक फ़ैसले को लेकर बड़ा हंगामा मचा हुआ है. इस फ़ैसले को लेकर कई तीखी प्रतिक्रियाएं आई हैं.
यूक्रेन में कई लोगों ने इस फ़ैसले पर आश्चर्य व्यक्त किया है, तो सांसदों के एक समूह ने रक्षा मंत्री एंड्री ट्रान से माफ़ी माँगने तक को कहा है.
दरअसल, यूक्रेन अगले महीने की 24 तारीख़ को अपनी स्वतंत्रता के 30 साल पूरे होने का जश्न मनाने जा रहा है.
इसी की तैयारी के लिए परेड का अभ्यास किया जा रहा है और रक्षा मंत्रालय की योजना है कि इस परेड में महिला सैनिक जूतों की जगह हाई हील्स में उतरेंगी.
यूक्रेन के रक्षा मंत्रालय ने इस परेड के अभ्यास से जुड़ी कुछ तस्वीरें जारी कीं, जिनमें महिला सैनिक काले रंग की हाई हील्स पहने दिख रही हैं.
लेकिन संसद में विपक्षी पार्टी की सदस्य इरिना गेराशचेंको का कहना है कि ये लैंगिकवाद (सेक्सिज़्म) है, समानता नहीं.
उन्होंने कहा, “शुरुआत में मैंने सोचा कि युद्ध के कपड़े में ब्लैक पंप्स और ब्लॉक हील्स (आगे से लो कट वाली काली हाई हील्स) में पूर्वाभ्यास करती महिला सैनिकों की ये तस्वीर बस एक अफ़वाह है.”
पूर्व महिला सैन्य कर्मी ने जताई नाराज़गी
एक पूर्व सैन्यकर्मी मारिया बर्लिंस्का ने कहा कि “परेड में सेना की वीरता का प्रदर्शन होना चाहिए, लेकिन ये दर्शक दीर्घा में बैठे वरिष्ठ सैन्य अधिकारियों को ख़ुश करने के लिए है.”
यूक्रेन सोवियत संघ के विघटन के बाद एक अलग देश बना था.
हाल ही में संसद की डिप्टी स्पीकर ओलीना कोंद्रात्युक ने बताया कि 13,500 से ज़्यादा महिला सैनिकों ने पूर्वी यूक्रेन में रूस समर्थित अलगाववादियों का जंग में डटकर सामना किया.
बताया जाता है कि 31 हज़ार से ज़्यादा महिलाएं यूक्रेन के विभिन्न सुरक्षाबलों से जुड़ी हैं जिनमें से क़रीब चार हज़ार महिला अफ़सर हैं.
-एजेंसियां