आपातकाल के काले दिनों को कभी नहीं भुलाया जा सकता: प्रधानमंत्री

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को कहा कि आपातकाल के काले दिनों को कभी नहीं भुलाया जा सकता है। उन्होंने याद किया कि 1975 और 1977 के बीच संस्थानों का व्यवस्थित विनाश कैसे हुआ।
आपातकाल की 46वीं वर्षगांठ पर प्रधान मंत्री मोदी ने ट्वीट किया, “आपातकाल के काले दिनों को कभी नहीं भुलाया जा सकता है। 1975 से 1977 की अवधि में संस्थानों का व्यवस्थित विनाश देखा गया। आइए हम भारत की लोकतांत्रिक भावना को मजबूत करने के लिए हर संभव प्रयास करने का संकल्प लें, और हमारे संविधान में निहित मूल्यों पर खरा उतरें।”
प्रधानमंत्री ने उन सभी महानुभावों को याद किया जिन्होंने आपातकाल का विरोध किया था।
एक अन्य ट्वीट में, प्रधान मंत्री ने कहा, “इस तरह कांग्रेस ने हमारे लोकतांत्रिक लोकाचार को कुचल दिया। हम उन सभी महान लोगों को याद करते हैं जिन्होंने आपातकाल का विरोध किया और भारतीय लोकतंत्र की रक्षा की”
-एजेंसियां