संत कबीर नगर: जिले में लॉकडाउन का नहीं हो रहा सख्ती से पालन

संत कबीर नगर। कोविड 19 वायरस के बढ़ते घातक संक्रमण को देखते हुए 10 मई की सुबह तक प्रदेश सरकार ने लॉकडाउन की घोषणा की है।
कोरोना के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए किराना दुकान, मेडिकल स्टोर, सब्जी मंडी सहित अन्य जरूरी सेवाओं वाले प्रतिष्ठानों को छोड़कर सभी प्रतिष्ठानों को बंद रखने का आदेश दिया गया है। सिविल व पुलिस प्रशासन लोगों से बार—बार अपील कर रही है कि वह बिना वजह घर से बाहर नहीं निकले। विशेष कार्य के लिए अगर लोग घर से निकलते भी हैं तो उन्हें अपने चेहरे को मास्क से ढकने व सोशल डिस्टेंस का पालन करने का निर्देश दिया गया है।
प्रदेश के अन्य हिस्सों सहित संत कबीर नगर में कोरोना से संक्रमित लोगों की संख्या तेजी से बढ़ती जा रही है। जो लोगों के लिए एक चिंता का विषय है। बावजूद इसके ग्रामीण इलाकों की बात तो दूर जिले मुख्यालय खलीलाबाद शहरी क्षेत्र के लोग भी लॉक डाउन का उल्लंघन कर बेवजह अपने घर से निकल कर घूमते हुए देखे जा रहे हैं। सब्जी बाजार या किराना दुकान पर खरीदारी करने पहुंचे लोग भी मास्क व सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं कर रहे हैं। सड़कों पर धड़ल्ले से दो पहिया व चार पहिया दौड़ती नजर आ रही है। लॉक डाउन का पालन कराने में पूरी तरह से फेल हो रहा जिला प्रशासन।
निर्धारित समय के बाद दुकानदार बैक डोर से या शटर डाऊन कर सामन बेच रहे हैं और कोरोना महामारी को बढ़ावा दे रहे हैं। वही जिम्मेदार सिर्फ लॉक डाउन का पालन कराने का दिखावा कर रहे हैं। कमोवेश यही स्थिति पूरे जिले की है।
लॉक डाउन के दौरान बेवजह घर से निकलने व एक जगह कई लोगों को एकत्रित नहीं होने का निर्देश है। बावजूद इसके देखा जा रहा है कि लोग इन सब बातों को दरकिनार करते हुए गली मोहल्लों में एक जगह जमा होकर गप्पें मार रहे हैं। लोग जरुरी एहतियात/ प्रशासन की बातों को गंभीरता से ना लेकर आने वाले खतरे से पूरी तरह से अनजान नजर आ रहे हैं। ऐसे में जरूरत है कि प्रशासन लॉकडाउन का अनुपालन कराने के लिए और सख्ती बरते। ताकि लोग अपने अपने घरों में ही रहे हैं और सुरक्षित रहें।
हालांकि ड्यूटी पर मौजूद पुलिस अधिकारी व पुलिसकर्मियों द्वारा ऐसे लोगों को रोककर घर से बाहर निकलने का कारण पूछा जाता है और उन्हें कड़ी हिदायत भी दी जाती है। बगैर माक्स लगाये लोगो से जुर्माना वसूला जा रहा है। ऐसे लोगो को हिदायत भी दी जा रही है कि वह आइंदा बिना किसी जरूरी काम के घरों से बाहर ना निकले। गुरूवार को शहर के मेहदावल चौक,आटो स्टैंड चौराहा आदि स्थानों पर पुलिस ने बेवजह सड़क पर घूमते लोगो को पकड़ कर लोगों ने जुर्माना भी वसूला।
जानकारों का कहना है कि कोरोना से लड़ने के लिए अभी तक दवा नही बनी है, वैक्सीन भी पर्याप्त मात्रा में लोगों को नही लगाया जा सका है। ऐसे में इस महामारी से बचने का एक ही उपाय है कि लोग लॉकडाउन का पालन करें और अपने घरों में ही रहें। जिससे कि वह, उसने परिजन इस महामारी से अपने आप को बचा सकते हैं। ऐसे लोग जो बेवजह घरों से निकलकर बाहर घूमने का कार्य कर रहे हैं वह ना सिर्फ अपनी बल्कि पूरे समाज के लोगों के जान को खतरे में डालने का कार्य कर रहे हैं।
र‍िपोर्ट – नवनीत मिश्र