जय मिश्र जगद्गुरु स्वामी रामभद्राचार्य के उत्तराधिकारी घोषित

च‍ित्रकूट। जगद्गुरु स्वामी रामभद्राचार्य ने तुलसी पीठ के नए उत्तराधिकारी के तौर जय मिश्र का नाम घोषित किया है।

27 Mar 2018 बाल व्यास श्री वत्स जय मिश्र को तुलसी पीठ का युवराज घोषित किया गया था। युवराज जय मिश्र निजी सचिव के रूप में पिछले आठ वर्षों से जगद्गुरू की सेवा कर रहे हैं।

सात अगस्त को वह भव्य कार्यक्रम के दौरान नए उत्तराधिकारी का राज्याभिषेक करेंगे। इसके साथ ही उनका नया नामकरण भी किया जाएगा।

कार्यक्रम में कई केन्द्रीय मंत्रियों के साथ ही प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी शामिल होंगे। मंगलवार को तुलसी पीठ में मीडिया से मुखातिब जगद्गुरु ने कहा कि 1987 में उन्होंने तुलसी पीठ संचालित किया था। अभी तक तुलसी पीठ निर्विरोध रही है। साधू-संतों, गोसेवा के साथ ही दिव्यांगों की उन्होनें सेवा की है। किसी ने अभी तक कोई विरोध नहीं किया है। अब उनकी अवस्था काफी हो चुकी है। अन्य बहुत कार्यों की जिम्मेदारियां भी हैं, इसलिए उन्होनें बहुत ही विश्वासपात्र जय मिश्र को तुलसी पीठ का नया उत्तराधिकारी बनाने का निर्णय लिया है।

जगद्गुरु ने बताया कि 7 अगस्त को वह जय मिश्र का तुलसी पीठ के नए उत्तराधिकारी के तौर पर राज्याभिषेक करेंगे। इस समारोह में रक्षामंत्री राजनाथ सिंह, स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन, बाल विकास मंत्री, सामाजिक अधिकारिता मंत्री, प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के अलावा धर्मनगरी चित्रकूट के साधू-संत मौजूद रहेंगे।

जगद्गुरु ने कहा कि उत्तराधिकारी के तौर पर जय मिश्र को बहुत बड़ी जिम्मेदारी सौंपी जा रही है। उनको पूरा भरोसा है कि वह तुलसी पीठ को निरंतर आगे बढ़ाने का काम करेंगे। राज्याभिषेक समारोह से पहले उनकी कथा चलेगी। इसके बाद अपरान्ह तीन बजे वह स्वाती नक्षत्र में जय मिश्र का नया नामकरण करते हुए राज्याभिषेक करेंगे। उन्होंने कहा कि हमें अभी आगे बहुत कुछ काम करने हैं, इसलिए उनके बाद जय मिश्र पूरी तरह से तुलसी पीठ के उत्तराधिकारी होंगे।

– एजेंसी

The post जय मिश्र जगद्गुरु स्वामी रामभद्राचार्य के उत्तराधिकारी घोषित appeared first on updarpan.com.