28 साल की उम्र में लड़कियों में अक्सर होने लगती है ये बीमारी

आज में टाइम में जल्दी शादी कोई भी नहीं करना चाहता. इसके पीछे कई कारण हो सकते हैं, वहीं कुछ ऐसे भी होते हैं जिन्हें पढाई कर अपना करियर सेट करना होता है. लेकिन कुछ कुछ ऐसी भी फेैमली होती हैं जो वक्त  से पहले अपने बच्चों की शादी कर देते हैं वैसे तो हर लड़की अपनी शादी को लेकर कई सपने देखती हैं लेकिन कुछ सपने पूरे नहीं हो पाते. आपके बता दें हाल ही में 28 साल की कुंवारी लड़कियों के लिए एक ऐसी रिसर्ज सामने आई जो उनके लिए काफी खतरनाक साबित हो सकती हैं.
बता दें कि 28 साल से ज्यादा उम्र की कुंवारी लड़कियों मे डिमेशिया नाम की एक तेजी से बदल रहीं हैं. न्यूरोलॉजी, न्यूरोसर्जरी और साइकाइट्री जर्नल मेें उपलब्ध पढ़ाई के मुताबिक कुंवारी लड़कियों में डिमेशिया नाम की बिमारी 42 % तक बढ़ चुकी हैं. इसके साथ ही जिन लड़कियों के पति की मृत्यु जल्दी हो जाती हैं और लम्बें समय तक अकेली रहती हैं उन महिलाओं में भी इस बिमारी को 20% तक अधिक मात्रा में होता हैं. 
वहीं इस स्टडी मों 15 दूसरी संबधित स्टडी को प्रयोग में लाया गया. स्टडी के अनुसार डिमेशिया और शादी के बीच में बहुत ही गहरा सम्बन्ध होतो हैं. अक्सर शादीशुदा जीवन में पाटनर्स एक दूसरे का काफी अच्छी तरह ख्याल रखते हैं. दोनों का खास ध्यान रखने से इस बीमारी को दूर रखा जाता है. 
इस बिमारी में अक्सर लड़कियों के सोचने की क्षमता, भूलने की बिमारी, चिड़चिड़ा स्वभाव, किसी चीज़ के सोचने की शक्ति, और साथ ही मूड की स्वींग करने लगता हैं. अगर आप इन सब बिमारियों से बचना चाहता हैं तो कोशिश करें कि 28 की उम्र से पहले शादी कर लें.