भारत में पिछले कुछ सालों से युवाओं के बीच नौकरी को छोड़कर स्टार्ट अप या अपना खुद का बिजनेस शुरू करने की प्रवृत्ति काफी देखी गई है। दरअसल खुद का बिज़नेस इस लिहाज से भी अच्छा होता है कि इसमें दूसरों के अंडर काम करने की बजाय खुद अपनी कंपनी का बॉस बनने का मौका मिलता है।

ऐसे में अगर आप भी खुद का बिज़नेस करना चाहते हैं तो हम आपके लिए कुछ ऐसे कमाल के आइडियाज लाएं हैं जिनसे आप मात्र 10 हजार रुपए में खुद का बिज़नेस शुरू कर सकते हैं। चलिए जानते हैं इनके बारे में।

जूस शॉप
देखा जाए तो आज के दौर में हर कोई स्वस्थ रहना चाहता है और जूस को सीधे तौर पर स्वास्थ्य से जोड़कर देखा जाता है। इसकी खास बात है कि इसे शुरू करने के लिए ज्यादा जगह की जरूरत नहीं पड़ती। बता दें कि आप सिर्फ एक मशीन और थोड़े से फल के सहारे आप इस बिजनेस को शुरू कर सकते हैं।

नाश्ते की दुकान या टिफिन सर्विस
टिफिन या नाश्ता तो ऐसा बिज़नेस है जो हमेशा ही हिट रहता है क्योंकि ये सदाबहार बिजनेस होता है। इसे कहीं भी किसी भी शहर के कोने में शुरू किया जा सकता है। इसकी खास बात यह है कि इसके लिए आपको ग्राहक भी नहीं तलाशने पड़ेंगे। जी हां, दरअसल एक बार आपकी दुकान के बारे में लोगों को पता चला तो वे आपके यहां दौड़े चले आएंगे।
हालांकि आपकी दुकान का सामान अच्छा होना चाहिए। इसके अलावा आप किसी कंपनी, स्कूल, सर्विस सेंटर, पीजी जैसे जगहों के लिए टिफिन सर्विस भी शुरू कर सकते हैं। इसमें भी काफी कम पैसों की जरूरत पड़ती है।
ट्रैवल एजेंसी
पिछले कुछ समय में भारत में ट्रैवल एजेंसी बिजनेस में काफी बढ़ोत्तरी हुई है। इस बिजनेस की खासियत यह है कि इसमें बहुत अधिक इन्वेस्टमेंट की जरूरत नहीं होती है। अगर आप किसी शहर या कस्बे में रहते हैं तो इसे आप घर से ही चला सकते हैं।

ट्यूशन या कोचिंग सेंटर
अगर आप पढ़े लिखे हैं और आपको बिना किसी भारी भरकम इन्वेस्टमेंट के अच्छे पैसे कमाने हैं तो आपको बता दें कि ट्यूशन या फिर कोचिंग सेंटर एक अच्छा विकल्प हो सकता है। जी हां, दरअसल आप चाहें तो अपने दोस्तों का एक ग्रुप बनाकर इसे संगठित तरीके से शुरू कर सकते हैं। सबसे खास बात यह है कि इसे शुरू करने में आपको बहुत कम पैसों की जरूरत पड़ेगी।
वेडिंग कंसल्टेंट
आजकल में हाईटेक जमाने में हर चीज़ में प्रोफेशनल्स जुड़ गए हैं। जी हां, दरअसल अब वो जमाना चला गया जब शादी की पूरी व्यवस्था घरवाले करते थे। इस भागदौड़ भरे वक्त में लोगों के पास वक़्त की कमी है इसलिए इतने बड़े आयोजन को अकेले मैनेज लोग नहीं कर पाते। यही कारण है कि बीते कुछ समय में भारत में भी वेडिंग कंसल्टेंट जैसे प्रोफेशनल की डिमांड बढ़ी है। अगर आपको लगता है कि आपकी रुचि कार्यक्रमों को मैनेज करने में है तो यह विकल्प आपके लिए अच्छा साबित हो सकता है।