18 साल की उम्र में 3 भाइयों के साथ निकाह करने वाली लड़की की दर्दभरी कहानी

महज़ 18 साल की उम्र में अफगानिस्तान की एक लड़की दो बार विधवा हो गई। जिसके बाद उसकी तीसरी शादी कर दी गई। लड़की की तीनों शादियां एक ही परिवार में हुई, कहने का सीधा मतलब ये है कि लड़की ने तीन भाईयों से एक के बाद एक शादी कर ली।

इस लड़की का नाम खदिजा है, जो अफनागिस्तान की रहने वाली है। बेहद ही दर्दनाक ज़िंदगी जी रही खदिजा अपने सपनों के बारे में किसी भी तरह की कोई बात नहीं करना चाहती, क्योंकि शायद सपने जैसी चीज़ें उसके लिए बनी ही नहीं हैं।

आमतौर पर ऐसा देखा जाता है कि शादीशुदा भाई की मौत के बाद छोटे भाई को अपनी भाभी से शादी करनी पड़ जाती है।

भारत में भी ऐसे कई मामले देखने को मिले हैं और आज के दौर में भी ऐसे मामले देखने को मिल जाते हैं। ठीक उसी तरह अफगानिस्तान में भी ऐसे कई समाज हैं, जहां इस तरह की ज़िम्मेदारियां छोटे भाइयों को उठानी पड़ती है। लेकिन अफगानिस्तान के इन समाज में विधवा हुई लड़कियों के पास अपनी मर्ज़ी से ज़िंदगी का फैसला लेने का अधिकार नहीं है।

खजिदा की इस दर्दनाक कहानी की शुरुआत उसके जन्म से पहले ही शुरु हो गई थी। एक अमेरिकी अखबार द्वारा लिखी गई एक रिपोर्ट की मानें तो खदिजा के जन्म से पहले ही किसी रिश्तेदार के साथ उसका निकाह तय कर दिया गया था। खदिजा के जन्म के 6 साल बाद उसकी शादी 21 साल के हक के साथ कर दी गई।

लेकिन दोनों की शादी उस वक्त बर्बादी की कगार पर पहुंच गई थी, जब हक की बहन एक अमेरिकी हमले में मारी गई थी। बहन की मौत के बाद हक तालिबान में शामिल हो गया था। और फिर वही हुआ जिसका डर था, हक भी अमेरिका के हमले में मारा गया। जिसकी वजह से खदिजा महज़ 10 साल की उम्र में ही विधवा हो गई।

हक की मौत के बाद खदिजा की शादी 22 वर्षीय अमिनुल्लाह से की गई। अमिनुल्लाह, हक का छोटा भाई था जो पुलिस का जवान था। साल 2014 में खदिजा गर्भवती हो गई, उसी दौरान एक बम धमाके में अमिनुल्लाह की भी मौत हो गई।

अमिनुल्लाह की मौत के बाद खदिजा ने 14 साल की उम्र में एक बच्ची की मां बनी। जिसके बाद उसकी शादी अमिनुल्लाह से छोटे भाई शमसुद्दीन से 2015 में कर दी गई। शमसुद्दीन अफगानिस्तान में रिक्शा चलाता है।