कैदी की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत, परिजनों के हंगामे के बाद मजिस्ट्रियल जांच के आदेश

ग्वालियर की सेंट्रल जेल में आज एक कैदी की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गयी है। जैसे ही यह खबर कैदी के परिजनों को लगी तो उन्होंने कैदी की मौत को लेकर हंगामा शुरू कर दिया। उनका कहना था कि यह मौत जेल प्रशासन के द्वारा की गई पिटाई से हुई है। आनन-फानन में जेल प्रशासन ने कैदी की बॉडी को पीएम हाउस भेज दिया है। जहां उसका पुलिस की निगरानी में पोस्टमार्टम हो रहा है।दरअसल रामहेत गुर्जर हत्या के मामले में उम्र कैद की सजा काट रहा था। साथ ही दो रोज पहले ही पैरोल खत्म होने पर सेंट्रल जेल पहुंचा था। लेकिन आज सुबह अचानक उसे जयारोग्य अस्पताल के आईसीयू में भर्ती कराया गया। जहां कुछ ही मिनटों में डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। वहीं जैसे ही ये खबर रामहेत के परिजनों को लगी तो वह अस्पताल पहुंच गए। उनके मुताबिक रामहेत को मृत अवस्था में ही जेल से अस्पताल लाया गया था। उनकी जेल के अंदर पिटाई से मौत हो गई थी। वहीं जेल प्रशासन के लोग इस मामले में कुछ भी कहने से बच रहे हैं। वहीं जिला प्रशासन ने इस मामले में मजिस्ट्रियल जांच के आदेश दे दिए है।