अगर आप भी उंगलियां चटकाते हैं तो एक बार जरूर पढ़ ले ये खबर

ऊपर दिए गए पीले बटन को दबाकर हमें फॉलो जरूर कर ले।

अक्सर हम लोग काम करते-करते बोर हो जाते हैं तो अचानक उंगलियां चटकना शुरू कर देते हैं पर क्या आपको मालूम हैं ऐसा करने से क्या होता हैं, क्यों उंगलियां चटकाने से आवाजें आती हैं, यह करना कहीं हमारे सेहत के लिए हानिकारक तो नहीं तो आइए आज जानते हैं इसके बारें में।

अॉनलाईन शॉपिंग करने पर या किसी नाजूक चीज को पार्शल करने के लिए बबल रेप्प का इस्तेमाल किया जाता हैं ये एक हवा के छोटे-छोटे बबल से बने पलास्टिक की पन्नी होती हैं जो ट्रांसपोर्ट के दौरान पैकट में मौजूद सामान को टूटने से बचाने का काम करती हैं ठीक उसी तरह के बबल्स हमारे बॉन ज्वाइंन के बीच में पाये जाते हैं।

हमारे ज्वाइंन के मूवमेंट को आसान बनाने के लिए हमारे जोड़ों के बीच में एक चिकना पर्दोथ पाया जाता हैं जिसे synovial fluid इसे फ्लोइड के अंदर बहुत ही माइक्रोस्कोपीक हवा के बबल्स होते हैं जो हर 20 मिनट में हमारे जोड़ो के बीच में इकट्टे होते रहते हैं और हड्डियों तथा जोड़ो को खिचने या फॉल्ड करने पर फूट जाते हैं जैसै हड्डियां चटकने की आवाज आती हैं।

कई ल़ोगों का मानना हैं की उंगलियां चटकाने से ज्वाइन पैन या अन्य जैसी बिमारी हो जाती हैं इस बात अई पुष्टि करने के लिए डॉक्टर डगंल अॉर्नड ने पूरे 50 सालों तक अपने उल्टे हाथ लगातार उंगलियों को रोज चटकाया जिसके नतीजे में यह पता चला की उंगलियां बजाने से जोड़ों का दर्द या कोई अन्या समस्या बिल्कुल नहीं होती इसके लिए इनको नॉबल प्राइज भी मिला।