होली प रंगों से अपनी त्वचा को बचाए इस तरीके से

रंग से कैसे बचें Protection from Colours यह सवाल होली के दिन सबसे पहले मन में आता है। एक समय था जब होली बड़ी शालीनता के
साथ प्राकृतिक रंगों का उपयोग करके मनाई जाती थी जो स्किन को बिल्कुल नुकसान नहीं पहुंचाते थे। अब जिन रंगों से होली खेली जाती है वे
केमिकल युक्त रंग होते है जो हमारे शरीर के लिए बहुत नुकसान देह होते है। इन रंगों से खुद के शरीर को बचाना जरुरी होता है। होली नहीं
खेलने का ख्याल भी मन में आता है। पर होली के हुड़दंग में कब शामिल हो जाते है पता ही नहीं चलता और परिणाम कांच में देखने पर पता
चलता है।
होली खेलते समय तो बहुत मजा आता है लेकिन जब रंग को छुड़ाने की बारी आती है तो नानी याद आ जाती है। सारा शरीर रंग से भर जाता है।
खुजली होने लगती है। स्किन को बार बार साबुन लगा कर घिस घिस कर स्किन छिल जाती है पर रंग नहीं उतरता।  यह हालत देखकर अगले
साल होली नहीं खेलने का निश्चय करते नजर आते है। होली नहीं खेलना इस समस्या का समाधान नहीं है। होली की मस्ती और उमंग का
भरपूर आनंद ले। बस थोड़ी तैयारी होली खेलने से पहले कर लें और कुछ सावधानी रख लें। फिर जम कर होली खेलें।

रंग से होली खेलने से पहले क्या करें – How to prepare for Holi

रंग से स्किन को कैसे बचाएं – Protect Skin

रंग से होली खेलने से पहले अपने पूरे शरीर पर नारियल का तेल लगा लें। नारियल के तेल की जगह जैतून का तेल लगा सकते है।
सरसों का तेल भी यूज़ किया जा सकता है। तेल न लगाना चाहें तो अच्छे से लोशन को पूरे शरीर पर लगा लें। सनस्क्रीन भी लगाया जा सकता
है। इससे रंग त्वचा में अंदर तक नहीं जायेगा और साफ आसानी से हो जायेगा। कपड़े इस प्रकार के पहनें कि जितना हो सके शरीर ढक जाये।
पूरी बाँहों वाला ड्रेस पहनें। उस ड्रेस का गला बड़ा नहीं होना चाहिए। गले के पास टाइट होना चाहिए ताकि रंग उस जगह से अंदर न जाने पाये।

रंग से बालों को कैसे बचाएं – Protect Hair

बालों  में अच्छे से तेल लगा लें। जड़ों में भी तेल लगायें। कुछ लोग रंग को बालों में छिड़क देते है। इससे सिर की त्वचा में खुजली जलन आदि
हो सकती है। यदि सम्भव हो तो टाइट जुड़ा बना लें। इसी जड़ों तक रंग नहीं पहुँच पायेगा। बालों को किसी कपड़े से ढक सकें तो बहुत अच्छा
रहता है।

रंग से नाख़ूनो को कैसे बचायें -Protect Nails

नाख़ून को बचाने के लिए सबसे पहले बढ़े हुए नाख़ून काट लें। अब इन पर नेल पोलिश लगा लेनी चाहिए। नाख़ून के किनारों से थोड़ी आगे
स्किन तक लगा लें। नाख़ून और स्किन के जॉइंट में भरा रंग जल्दी नहीं निकलता। पुरुष भी ट्रांसपरेंट नेल पोलिश लगा कर नाख़ून ख़राब होने
से बचा सकते है। जिसे होली खेलने के बाद रिमूवर से साफ कर सकते हैं। नाख़ून के अंदर थोड़ी वेसलीन भर लें इससे थोड़ा भी रंग नाख़ून

रंग से आँखों को कैसे बचाएं – Protect Eyes

आँखों को रंग से बचाना सबसे ज्यादा जरुरी है वर्ना गंभीर परेशानी पैदा हो सकती है। कोई भी आपको रंग लगाने लगे तो ऑंखें बंद रखें ताकि
रंग आँखों में न जाये। रंग वाले हाथों से आंख के पास लगे रंग को साफ करने की कोशिश ना करें अन्यथा खुद आपके हाथों में लगा रंग आंख
में जा सकता है। आंख पोंछनी हो तो साफ रुमाल से ही आंख पोंछें। आंख में रंग जाने पर तुरंत साफ पानी से धोएं।
यदि कांटेक्ट लेंस का उपयोग करते है तो होली खेलने से पहले इन्हें निकालना ना भूले। चश्मा पहन कर खेल सकते है इससे रंग आँखों में जाने
से बचेगा। परंतु चश्मे के कारण चोट ना लगे इस बात का ध्यान अवश्य रखें। चश्मे पर गुलाल आदि गिर जाये तो साफ कपड़े से पोंछ दें।
ऑनलाइन आवेदन करने के लिए लिए यहाँ क्लिक करे