पैसे देकर धर्मांतरण की कोशिश, ईसाई धर्म प्रचारकों पर केस दर्ज

उत्तर प्रदेश के कासगंज जिले के गंगपुर में धर्म परिवर्तन कराए जाने के प्रयास का मामला सामने आया है। यहां गांव वालों का ऐसा दावा है कि पैसों का लालच देकर और हिंदू देवी-देवताओं के प्रति हीनता भरे उपदेशों तथा साहित्यों का सहारा लेते हुए उनके और आपसपास के गांवों में सैकड़ों लोगों का धर्म परिवर्तन कराया गया है। आरोपों के आधार पर मौके से पुलिस ने कई लोगों को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार किए गए आरोपियों के खिलाफ थाना सिकंदरपुर वैश्य पर अपराध संख्या-129 के अंतर्गत केस दर्ज़ कर लिया गया है।
शिकायतकर्ता अरविंद गुप्ता के अनुसार ईसाई धर्म के कुछ प्रचारक हिंदू देवी-देवताओं के प्रति अभद्र और आपत्तिजनक साहित्य के साथ कासगंज के थाना सिकंदरपुर वैश्य इलाके के गांव गंगपुर में धर्म परिवर्तन कराने के लिए पहुंचे थे। जब आरोपी ईसाई धर्म प्रचारकों से उनकी कार में मौजूद हिंदू देवी-देवताओं के प्रति अभद्र और आपत्तिजनक साहित्य के बारे में पूछा गया तो वह मारपीट करने पर उतारू हो गए। विरोध करने पर कथित तौर पर शिकायतकर्ता को जान से मारने की धमकी भी दी गई।
गंगपुर गांव के रहने वाले महावीर सिंह बताते हैं कि कुछ ईसाई धर्म के प्रचारक पैसों का लालच और दवाइयों व इलाज के लिए सहायता की कहकर, शादी विवाह में आर्थिक मदद का भरोसा देकर, बहला फुसलाकर और हिंदू देवी देवताओं के प्रति हीनता भरे उपदेशों और साहित्यों का सहारा लेकर लगातार उनके गांव के दलितों और आर्थिक रूप से कमजोर लोगों के धर्म परिवर्तन कराए जाने का लगातार प्रयास कर रहे हैं।
महावीर सिंह ने यह भी बताया कि उनके गांव में ऐसे प्रयास पिछले कई सालों से किए जा रहे हैं। ऐसे ही प्रयासों के चलते गांव के 3 परिवारों ने लालच में आकर अपना धर्म परिवर्तन कर लिया है। वहीं अगर आसपास के क्षेत्र की बात की जाए तो सैकड़ों लोगों ने लालच में आकर अपना धर्म परिवर्तन कर लिया है।
गंगपुर गांव की एक गृहिणी चिंता देवी ने बताया कि कुछ ईसाई लोग उनके घर आए और कहा कि अगर वह उनकी संगत में आ जाएं तो उनके बीमार पति ठीक हो जाएंगे। उन धर्म प्रचारकों ने मेरे घर से हिंदू देवी-देवताओं की फोटो हटाकर अपने धर्म के चिह्न लगाने के लिए भी कहा। वहीं गंगपुर के रहने वाले पूरन सिंह ने बताया कि उनके गांव में ईसाई धर्म के कुछ लोग आए। उन्होंने संगत में एक साथ खाने पीने के लिए उन पर दबाव डाला। उन्होंने उन्हें पैसे देने का लालच भी दिया। उनके गांव के ही रामपाल ने अपने परिवार सहित धर्म परिवर्तन कर लिया है।
इस प्रकरण के बाद से इलाके में तनाव की स्थिति बनी हुई है। वहीं ढुलमुल कार्यवाही के साथ पुलिस अधिकारी इस पूरे मामले पर कुछ भी कहने से बच रहे हैं।
-एजेंसियां