मुड़िया पूर्णिमा मेला: आज से गोवर्धन की सीमाएं सील

गोवर्धन का मुड़िया पूर्णिमा मेला क्षेत्र पुलिस छावनी में तब्दील हो गया है। सोमवार को गोवर्धन की सीमाएं सील कर दी गईं। पांच दिवसीय मुड़िया पूर्णिमा मेला निरस्त होने के कारण परिक्रमार्थियों को रोकने के लिए भारी पुलिस बल तैनात किया गया है। 25 जुलाई तक सीमाएं सील रहेंगी।
मेला के पांच दिन तक रोजाना लाखों श्रद्धालुओं का आवागमन रहता है। कोरोना संक्रमण के डेल्टा वेरियंट की आशंका के मद्देनजर बाहरी व्यक्तियों का प्रवेश बंद कर दिया गया है ताकि कोरोना संक्रमण का खतरा न बने। इसके लिए गोवर्धन को जोड़ने वाली सीमाओं पर बैरियर बनाकर पुलिसकर्मी तैनात किए गए हैं। सुरक्षा व्यवस्थाओं में भीड़ को रोकने के लिए 25 निरीक्षक, 25 उपनिरीक्षक व 500 पुलिसकर्मी के अलावा सेक्टर मजिस्ट्रेट की तैनाती की गई है। गोवर्धन के दानघाटी मंदिर, मुकुट मुखारविंद मंदिर, जतीपुरा मुखारविंद के कपाट बंद हैं, प्रभु की सेवा सुचारू है। एसपी देहात श्रीश्चंद्र ने बताया कि भीड़ को रोकने के लिए पुलिसकर्मी तैनात कर दिए गए हैं। परिक्रमा मार्ग व उसके आसपास के क्षेत्र में वाहनों का प्रवेश वर्जित है। कोरोना जैसी महामारी से बचने के लिए शासन-प्रशासन का सहयोग करें। जिससे कि बीमारी को फैलने से बचाया जा सके। सीओ रविकांत पाराशर ने मेला क्षेत्र का निरीक्षण कर अधीनस्थों को आवश्यक निर्देश दिए तथा वाहनों के प्रवेश को सख्ती से रोकने के निर्देश दिए।
-एजेंसियां