महिलाओं से जुड़े मामलों में लापरवाही बरती तो SO से लेकर SP तक कार्यवाही: DGP

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के नए DGP मुकुल गोयल ने कार्यभार संभालते ही राज्य की कानून व्यवस्था को दुरुस्त करने के लिए कमर कस ली थी। अब उन्होंने सभी फील्ड ऑफिसर्स को महिला अपराधों को लेकर अधिक सतर्कता बरतने के लिए कहा है। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि महिलाओं से जुड़े मामलों में यदि लापरवाही बरती गई तो थानाध्यक्ष से लेकर जिले के एसपी तक कार्यवाही की जाएगी।
‘महिलाओं के मामलों में संवेदनशीलता के साथ हो त्वरित कार्यवाही’: यूपी डीजीपी
यूपी के डीजीपी मुकुल गोयल ने महिलाओं से जुड़े मामलों को गंभीरता से लेते हुए महकमे के फील्ड अधिकारियों काखास निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि छोटे छोटे माममलों को गम्भीरता से न लेते हुए बरती गई लापरवाही आने वाले समय में बड़ा रूप ले लेती है। जिसके बाद थाने लेवल के पुलिसकर्मी से लेकर उच्चाधिकारी तक को इसका खामयाजा भुगतना पड़ता है। इसके लिए जरूरी है कि महिलाओं की ओर से की गई छोटी से छोटी शिकायत को संज्ञान में लेकर संवेदनशीलता के साथ त्वरित कार्यवाही की जाए। उन्होंने कहा कि महिला से जुड़े मामलों में लापरवाही सामने आने पर थाने के दारोगा से लेकर जिले के एसपी तक के ऊपर कार्यवाही की जाएगी।
‘शहर के सभी पिंक बूथों को महिला पुलिसकर्मियों से किया जाएगा लैस’
डीजीपी ने कहा कि यूपी में महिला सुरक्षा हमारी सबसे पहली प्राथमिकता है। ऐसे अपराधों को रोकने के लिए प्रदेश भर में पूर्व से ही काम किया जा रहा है। महिलाओं को सशक्त बनाने के लिए मिशन शक्ति अभियान से लेकर 1090 की स्थापना की गई। महिला सुरक्षा को और तेज करते हुए सभी जिलों के अलग अलग हिस्सों में पिंक बूथों की स्थापना की गई है। वर्तमान समय में कई बूथों पर महिला पुलिसकर्मियों की तैनाती हो चुकी है लेकिन जल्द से जल्द आने वाले समय में जिलों के सभी पिंक बूथों पर महिला पुलिसकर्मियों को तैनात कर दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि यूपी पुलिस महिलाओं के लिए बेहतर तरीके से काम कर रही है।
-एजेंसियां