तत्व चिंतन फार्मा ने तोड़ा अभी तक के IPOs के सब्सक्रिप्शन का र‍िकॉर्ड

मुंबई। इन द‍िनों छोटी कंपनियां अपने IPO को लेकर बड़ी कंपनियों पर भारी पड़ रही हैं, आज तत्व चिंतन फार्मा ने अपना IPO खोला तो पहले दिन ही सब्सक्रिप्शन ने र‍िकॉर्ड तोड़ द‍िया। मार्च के बाद से सब्सक्रिप्शन में टेक्नोलॉजी संबंधी कंपन‍ियां नंबर 1 पर थीं पर अब इनका रिकॉर्ड तत्व चिंतन फार्मा के IPO ने तोड़ दिया है। इस मामले में जोमैटो फिसड्‌डी साबित हुआ है।

175 गुना भरा था नजारा का इश्यू

आंकड़े बताते हैं कि मार्च के बाद से अब तक आए बड़े IPO में नजारा टेक्नोलॉजी का IPO पहले दिन 4.01 गुना भरा था। कुल सब्सक्रिप्शन इसे 175 गुना मिला था। इसमें रिटेल का हिस्सा 75.29 गुना भरा था जो एक रिकॉर्ड है। 582 करोड़ के इस इश्यू का मूल्य 1,101 रुपए रखा गया था। इसके बाद पहले दिन सब्सक्रिप्शन में तत्व चिंतन फार्मा है। इसका IPO खुला हुआ है। यह दोपहर तक 4.47 गुना भरा था। रिटेल का हिस्सा पहले दिन 7 गुना भरा है। 500 करोड़ के IPO का मूल्य 1,083 रुपए है।

एमटीएआर का इश्यू 3.68 गुना भरा

इसी तरह एमटीएआर का IPO पहले दिन 3.68 गुना भरा था। इसे कुल 200.79 गुना रिस्पांस मिला था। इसमें रिटेल का हिस्सा 28.40 गुना भरा था। 596 करोड़ के इस IPO का मूल्य 575 रुपए था। हाल में बंद हुए जी.आर. इंफ्रा का IPO पहले दिन 2.28 गुना भरा था और कुल 102 गुना भरा है। रिटेल का हिस्सा 12.57 गुना भरा है। 963 करोड़ के इश्यू का मूल्य 837 रुपए तय किया गया था। क्लीन साइंस का पहले दिन 1.70 गुना जबकि टोटल 93.41 गुना इश्यू भरा था। 1,546 करोड़ का यह IPO 900 रुपए के मूल्य पर आया था।

लक्ष्मी ऑर्गेनिक का पहले दिन 2.28 गुना भरा

लक्ष्मी ऑर्गेनिक का IPO पहले दिन 2.28 गुना जबकि टोटल 106 गुना भरा था। रिटेल निवेशकों ने इसमें 20 गुना ज्यादा पैसा लगाया था। 600 करोड़ रुपए का यह इश्यू 130 रुपए के भाव पर आया था। इजी ट्रिप की बात करें तो इसका पहले दिन 2.33 गुना भरा था जबकि टोटल 159 गुना भरा था। रिेटेल निवेशकों का हिस्सा 70 गुना से ज्यादा भरा था। 510 करोड़ का इश्यू 187 रुपए के भाव पर आया था।

डोडला डेयरी भी जोमैटो से ज्यादा भरा था

आंकड़े बताते हैं कि डोडला डेयरी का IPO पहले दिन 1.23 गुना और अंतिम दिन 45 गुना भरा था। रिटेल निवेशकों ने 11.34 गुना अपना हिस्सा भरा था। 520 करोड़ के इश्यू का भाव 428 रुपए तय किया गया था। श्याम मेटालिक्स का भी IPO पहले दिन 1.23 गुना भरा और अंतिम दिन 121 गुना भरा था। रिटेल का हिस्सा 11.64 गुना भरा था। 909 करोड़ का IPO 306 रुपए में आया था।

जोमैटो पहले दिन केवल 1.05 गुना भरा

बंद हो रहे जोमैटो का IPO इस मामले में फेल रहा है। पहले दिन वह महज 1.05 गुना भरा था। अंतिम दिन तक वह 38 गुना भरा है। रिटेल का हिस्सा इसमें 7.23 गुना भरा है जबकि तत्व चिंतन में भी रिटेल का हिस्सा 7 गुना ही भरा है। जोमैटो 72 से 76 रुपए के भाव पर 9,375 करोड़ रुपए के लिए बाजार में उतरी है।

7-9 जुलाई के बीच दो इश्यू आए थे

क्लीन साइंस और जी.आर. इंफ्रा का इश्यू 7-9 जुलाई के बीच आया था। इंडिया पेस्टिसाइड का 23-25 जून तक आया था। डोडला डेयरी 16-18 जून, श्याम मेटालिक्स 14 से 16 जून तक आया था। नजारा टेक का इश्यू 17 से 19 और लक्ष्मी आर्गेनिक का 15-17 मार्च के बीच आया था। इजी ट्रिप 8-10 मार्च और एमटीएआर का इश्यू 3-5 मार्च के बीच आया था।

बड़े इश्यू में रिटेल को कम हिस्सेदारी

चौंकाने वाली बात यह है कि बड़े IPO हमेशा रिटेल निवेशकों के लिए कम हिस्सा रखते हैं। जोमैटो और पेटीएम ने यही काम किया है। हालांकि दोनों घाटे वाली कंपनी हैं, इसलिए इसमें कम हिस्सा है। पेटीएम और जोमैटो ने 10-10 पर्सेंट ही हिस्सा रिटेल के लिए आरक्षित रखा है। अमूमन IPO में 15 से 35 पर्सेंट हिस्सा रिटेल के लिए कंपनियां रखती हैं।
– updarpan.com