इकबाल कासकर का खुलासा: पाकिस्‍तान में ही है दाऊद, रोज खेलता है बैडमिंटन

मुंबई। दाऊद इब्राहिम के छोटे भाई इकबाल कासकर ने बताया है डॉन नियमित रूप से बैडमिंटन खेलता है। दरअसल, नार्कोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) ने पिछले पखवाड़े कासकर को दो दिन के लिए कस्टडी में लिया था। उस दौरान इकबाल ने डी कंपनी और डॉन के बारे में कुछ नई जानकारियां दीं।
तीन दशक से भारत का मोस्ट वॉन्टेड दाऊद इब्राहिम पाकिस्तान में छिपा बैठा है। सुरक्षा एजेंसियों को उसके बारे में खबरें मिलती रहती हैं।
इकबाल कासकर ने बताया कि दाऊद खुद को फिट रखने के लिए पाकिस्तान में अपने अपार्टमेंट में रोज बैडमिंटन खेलता है। इकबाल से पूछताछ में एनसीबी ने डी कंपनी के ड्रग्स सिंडिकेट से जुड़ी कई महत्वपूर्ण जानकारियां जुटाईं। पिछले कुछ दिनों में एनसीबी ने जिन ड्रग तस्करों को गिरफ्तार किया, उनमें एक शब्बीर उस्मान शेख भी है। एनसीबी का कहना है कि शब्बीर इकबाल कासकर का बहुत करीबी है। तीन दिन पहले हुसैन बी नाम की एक महिला को भी अरेस्ट किया गया था। इस महिला के बारे में जानकारी भी एनसीबी को इकबाल कासकर से ही मिली थी। उसके पास से करीब एक करोड़ रुपये कीमत की ड्रग्स मिली थी।
डी कंपनी का ड्रग्स रैकेट ऐसे होता है ऑपरेट
एनबीसी का कहना है डी कंपनी के लोग अलग-अलग रास्तों से ड्रग्स मुंबई भेजते हैं। इनमें से एक मोडस ऑपरेंडी में ड्रग्स जम्मू कश्मीर से अजमेर आती है। अजमेर से दिल्ली और फिर दिल्ली से मुंबई ड्रग्स सड़क के रास्ते पहुंचाई जाती है। ऐसी ही मोडस ऑपरेंडी से मुंबई भेजी गई करीब 9 करोड़ रुपये कीमत की साढ़े 17 किलो हशीश एनसीबी ने पिछले कुछ दिनों में जब्त की और सात लोगों को गिरफ्तार किया।
टेरर ऐंगल से भी जांच कर रही है एनसीबी
एनबीसी की जांच में यह बात सामने आई है कि मुंबई में ड्रग्स तस्करी में दाऊद के लोग गहरे तक शामिल हैं। इनमें छोटा शकील का नाम प्रमुख है। एनबीसी टेरर एंगल से भी इस केस का इनवेस्टिगेशन कर रही है। एनसीबी इस बात का पता लगाने में जुटी है कि कहीं ड्रग्स से कमाई गई रकम का इस्तेमाल आतंकवादी गतिविधियों के लिए तो नहीं किया जा रहा।
-एजेंसियां