जंक फूड खाने से रहता है कई तरह की बीमारियों का खतरा

जंक फूड खाने से कई तरह की बीमारियों का खतरा रहता है। जंक फूड में इस्तेमाल होने वाले तेल, नमक और चीनी की अधिक मात्रा का सीधा असर लीवर और पैनक्रियाज पर होता है। इससे शरीर में शुगर लेवल, ब्लड प्रेशर और कलेस्ट्रॉल लेवल में इजाफा होने लगता है। इन सब कारणों से 15-16 साल के बच्चों में भी न सिर्फ मोटापा बढ़ता है बल्कि वे छोटी उम्र में ही डायबीटीज के शिकार हो जाते हैं और 30-35 साल तक पहुंचते-पहुंचते उन्हें हार्ट की बीमारी हो जाती है।
फिजिकल ऐक्टिविटी है बेहद जरूरी
अपोलो स्पेक्ट्रा हॉस्पिटल के वेट लॉस सर्जन डॉ. आशीष भनोत ने कहा कि बच्चों में मोटापे को कम करने के लिए सबसे ज्यादा उनकी कैलरी पर कंट्रोल करना होगा। जंक फूड के जरिए वे ज्यादा से ज्यादा कैलरी लेते हैं, लेकिन फिजिकल ऐक्टिविटी बिलकुल नहीं करते जिस वजह से उनकी कैलरी बर्न नहीं होती और यह फैट के रूप में बॉडी के अंदर जमा होने लगती है। लिहाजा बेहद जरूरी है कि जितना हो सके बच्चों को जंक फूड और मीठा खाने से बचाएं।
नहीं छोड़ पाते जंक फूड का मोह
वैज्ञानिकों की मानें तो फैट्स और कार्बोहाइड्रेट से भरपूर जंक फूड आइटम्स हमारे ब्रेन के रिवॉर्ड सिस्टम को प्रभावित करते हैं और इसीलिए हम जंक फूड से दूर नहीं रह पाते। फैटी और कार्बोहाइड्रेट-रिच फूड दिमाग को सिग्नल भेजने वाले अलग-अलग रास्तों के ज़रिए रिवॉर्ड सिस्टम को ऐक्टिवेट करते हैं। जब फैट और कार्बोहाइड्रेट खाने में एक साथ मिलते हैं तो इसका प्रभाव और बढ़ जाता है।
फ्रेंच फ्राइज में 312 कैलरी
ट्रांसफैट और केमिकल से भरपूर फ्रेंच फ्राइज से न सिर्फ मोटापा बढ़ता है बल्कि हाइपरटेंशन, डायबीटीज और दिल की बीमारियां भी हो सकती हैं। 100 ग्राम फ्रेंच फ्राइज में 312 कैलरी और 15 ग्राम फैट होता है।
एक बर्गर में 540 कैलरी
हाई सैच्युरेटेड फैट और डाइट्री कलेस्ट्रॉल से भरपूर बर्गर का नियमित रूप से सेवन करने से शरीर में कलेस्ट्रॉल का लेवल बढ़ने लगता है और दिल की बीमारियों का खतरा बढ़ जाता है। एक मीडियम बर्गर में 540 कैलरी और 80 मिलीग्राम कलेस्ट्रॉल होता है।
एक पिज्जा स्लाइस में 311 कैलरी
फ्रेंच फ्राईज और बर्गर की ही तरह पिज्जा को भी रेग्युलर बेसिस पर खाने से शरीर में फैट की मात्रा बढ़ने लगती है जिससे न सिर्फ मोटापा बढ़ता है बल्कि शरीर में गुड कलेस्ट्रॉल की मात्रा भी घटने लगती है जिससे रक्त की धमनियों में रुकावट आने लगती है और स्ट्रोक का खतरा बढ़ जाता है। पिज्जा के एक बड़े स्लाइस में 311 कैलरी और 19 ग्राम फैट होता है।
-एजेंसी