KD हॉस्पिटल में cerebral palsy से पीड़‍ित कि‍शोर को क‍िया रोगमुक्‍त

मथुरा। के.डी. मेडिकल कॉलेज-हॉस्पिटल एण्ड रिसर्च सेण्टर के विशेषज्ञ चिकित्सकों डॉ. विक्रम शर्मा और डॉ. विवेक चांडक के प्रयासों से जन्मजात सेरेब्रल पाल्सी (cerebral palsy) से पीड़ित एक किशोर के चेहरे पर मुस्कान लौट आई है। सर्जरी के बाद दीपक न केवल अपने पैरों पर खड़ा हो सका बल्कि किसी मदद के चलने फिरने भी लगा है।

A teenager suffering from cerebral palsy was cured in the KD hospital
A teenager suffering from cerebral palsy was cured in the KD hospital

जानकारी के अनुसार  शहर के मण्डी चौराहा निवासी मेघ सिंह का 12 वर्षीय बेटा जन्म से ही चलने-फिरने में असमर्थ था। वह खड़ा भी नहीं हो पाता था। बच्चे की परेशानी को देखते हुए माता-पिता (मेघ सिंह और उर्मिला देवी) काफी परेशान थे। इन्होंने बच्चे को कई जगह दिखाया लेकिन संतोषजनक जवाब न मिलने से काफी निराश हो गए। ऐसे समय में किसी ने उन्हें बताया कि के.डी. हॉस्पिटल में अच्छे हड्डी रोग विशेषज्ञ हैं, एक बार वहां भी दिखा लो।

निराश माता-पिता को एक उम्मीद नजर आई और वे एक दिन दीपक को लेकर के.डी. हॉस्पिटल के हड्डी रोग विशेषज्ञ डॉ. विवेक चांडक से मिले। डॉ. चांडक ने दीपक की कुछ जांचें कराईं जिससे पता चला कि वह सेरेब्रल पाल्सी से पीड़ित है। डॉ. चांडक ने बच्चे की सर्जरी की सलाह दी। मेघ सिंह और उर्मिला की सहमति के बाद चिकित्सकों द्वारा सर्जरी कर कमर से नीचे की अकड़ चुकी मांसपेशियों को लम्बा किया गया। यह सर्जरी डॉ. विक्रम शर्मा, डॉ. विवेक चांडक और निश्चेतना विशेषज्ञ डॉ. विवेक शर्मा के आपसी सहयोग से हुई।

डॉ. विवेक चांडक का कहना है कि यह एक न्यूरोलॉजिकल डिसऑर्डर होता है जो बच्चों की शारीरिक गति, चलने-फिरने की क्षमता को प्रभावित करता है। डॉ. चांडक बताते हैं कि दीपक की मांसपेशियां काफी अकड़ी हुई थीं इसी कारण उसके पैर कैंची जैसी आकृति के हो गए थे। सर्जरी के बाद वह न केवल खड़ा होने लगा है बल्कि बिना किसी मदद के चल-फिर भी रहा है। डॉ. चांडक का कहना है कि सर्जरी सफल रही और अब दीपक को नियमित रूप से थेरेपी की जरूरत होगी। बच्चे की मां उर्मिला का कहना है कि मैं तो नाउम्मीद थी कि क्या मैं कभी दीपक को अपने पैरों पर खड़ा होते या चलते-फिरते देख पाऊंगी। हम लोग के.डी. हॉस्पिटल के डॉक्टरों के आभारी हैं जिनके प्रयासों दीपक खड़ा हो सका।

आर.के. एज्यूकेशन हब के अध्यक्ष डॉ. रामकिशोर अग्रवाल और के.डी. मेडिकल कॉलेज-हॉस्पिटल एण्ड रिसर्च सेण्टर के प्रबंध निदेशक मनोज अग्रवाल ने दीपक की सफल सर्जरी के लिए चिकित्सकों की टीम को बधाई दी।