ट्विटर के MD की एक और शिकायत, सांप्रदायिक द्वेष फैलाने का आरोप

नई दिल्‍ली। ट्विटर की भारत में मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही है। ट्विटर के एमडी मनीष माहेश्वरी के खिलाफ दिल्ली में एक और शिकायत दी गई है।
वकील आदित्य सिंह देशवाल ने कथित रूप से धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाने, सांप्रदायिक द्वेष फैलाने के मामले में एनजीओ एथिस्ट रिपब्लिक के साथ ही ट्विटर के एमडी मनीष माहेश्वरी के खिलाफ दिल्ली पुलिस की साइबर सेल में शिकायत दी है।
वकील आदित्य का कहना है कि एनजीओ एथिस्ट रिपब्लिक ने मां काली की आपत्तिजनक तस्वीर पोस्ट की। इस संबंध में ट्विटर की तरफ से जानबूझ कर कार्यवाही नहीं की गई।
पुलिस ने शुरू की जांच, दर्ज हो सकती है FIR
शिकायतकर्ता का कहना है कि यह कंटेंट ना सिर्फ अब्यूजिव है बल्कि समाज में द्वेष, शत्रुता और दुर्भावना पैदा करने वाला है। शिकायत के बाद पुलिस ने इस मामले की जांच शुरू कर दी है। खबर है कि इस मामले में जल्द ही एफआईआर दर्ज की जा सकती है। इससे पहले भी गाजियाबाद मामले में वायरल ट्वीट को लेकर ट्विटर इंडिया और उसके अधिकारियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की जा चुकी है।
ईशनिंदा कंटेंट पर उठाया सवाल
शिकायतकर्ता देशवाल ने कहा कि ट्विटर और एथिस्ट रिपब्लिक के संस्थापक अर्मिन नवाबी मिलकर जुलाई 2011 से ईशनिंदा वाली सामग्री दिखा रहे हैं। उन्होंने आगे कहा कि एथिस्ट रिपब्लिक की प्रोफाइल हिंदू धर्म और अन्य धर्मों के बारे में इस तरह की ईशनिंदा सामग्री से भरी है। दूसरी ओर एक महत्वपूर्ण सोशल मीडिया मध्यस्थ (एसएसएमएन) के रूप में ट्विटर ने ऐसी सामग्री को हटाने के लिए कोई कदम नहीं उठाया है। इस तरह ट्विटर साफतौर पर भारतीय कानूनों का उल्लंघन अपराध के सहयोगी के रूप में काम कर रहा है। साथ ही इस तरह की ईशनिंदा और अपमानजनक सामग्री दिखा रहा है।”
ट्विटर के एमडी को हाईकोर्ट से मिली थी राहत
गाजियाबाद वायरल ट्वीट मामले में ट्विटर इंडिया के एमडी को कर्नाटक हाईकोर्ट से राहत मिल गई थी। हालांकि अब यह मामला सुप्रीम कोर्ट पहुंच चुका है। इससे पहले नए आईटी नियमों के पालन को लेकर ट्विटर और भारत सरकार में खींचतान चल रही है। इससे पहले भारत के नक्शे को गलत तरीके से पेश करने के मामले में भी केस दर्ज हो चुका है।
-एजेंसियां