200 अमेरिकी कंपनियों पर साइबर अटैक, रूस से तार जुड़े होने का दावा

लगभग 200 अमेरिकी कंपनियां एक बड़े रैनसम वेयर हमले से प्रभावित हुई हैं. हंट्रेस लैब्स ने कहा कि हैकर्स ने अपने सॉफ्टवेयर से आईटी कंपनी कासिया को निशाना बनाया और उसके बाद कासिया के कॉर्पोरेट नेटवर्क को इस्तेमाल करने वाली तमाम कंपनियों को टार्गेट किया.
कासिया ने अपनी वेबसाइट पर एक बयान में कहा कि वह “संभावित हमले” की जांच कर रही है. हंट्रेस लैब्स का मानना ​​​​है कि इस हमले के पीछे ‘रेविल रैंसमवेयर’ गिरोह है, जिसके तार रूस से जुड़े हैं.
साइबर सुरक्षा के लिए ज़िम्मेदार अमेरिका की एक संघीय एजेंसी ने एक बयान में कहा कि वह हमले की पड़ताल कर रही है. साइबर-उल्लंघन शुक्रवार दोपहर को सामने आया.
कितनी कंपनियां प्रभावित?
कासिया ने अपने बयान में कहा है कि बहुत कम कंपनियां इस साइबर अटैक से प्रभावित हुई हैं लेकिन हंट्रेल लैब्स के मुताबिक दो सौ से अधिक कंपनियां प्रभावित हैं.
बीबीसी ने कासिया से संपर्क कर प्रभावित होने वाली कंपनियां के बारे में पूछा लेकिन कंपनी ने इसका जवाब देने से इंकार कर दिया
-BBC