पंजाब कांग्रेस में मचे सियासी घमासान के बीच प्रियंका वाड्रा एक्टिव

नई दिल्‍ली। पंजाब कांग्रेस में मचे सियासी घमासान के बीच आज का दिन बेहद खास हो सकता है। प्रियंका वाड्रा के एक्टिव होने के बाद होने के बाद इस मामले के सुलझने के संकेत मिल रहे हैं। प्रियंका गांधी और नवजोत सिंह सिद्धू की आज पहली मुलाकात के बाद कई बैठकों का दौर चला। कुछ घंटों के भीतर ही प्रियंका गांधी अपने भाई राहुल गांधी और सोनिया गांधी से मिलीं। कल राहुल गांधी से नवजोत सिंह सिद्धू की जब मुलाकात नहीं हो पाई तो कई तरह की चर्चा शुरू हो गई। पंजाब के सीएम कैप्टन अमरिंदर और नवजोत सिंह सिद्धू के बीच तनातनी कई दिनों से जारी है।
एक के बाद एक कई मुलाकात
सबसे पहले प्रियंका गांधी ने आज नवजोत सिद्धू से मुलाकात की और उसके बाद वो अपने भाई राहुल गांधी से उनके आवास पर जाकर मिलीं। इसके बाद दोबारा से प्रियंका गांधी और नवजोत सिंह सिद्धू की मुलाकात हुई। इस मुलाकात के बाद वो कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से मिलने उनके आवास 10 जनपथ पर जा पहुंचीं। यहां की मुलाकात के बाद वो वापस दूसरी बार राहुल गांधी के घर वो मिलने के लिए गईं। यहां इन दोनों के बीच एक दिन में दूसरी बार मुलाकात हुई। यहां के बाद दोनों यानी प्रियंका गांधी और राहुल गांधी 10 जनपथ दोबारा पहुंच जाते हैं। एक दिन में कई बार की मुलाकात के बाद चर्चा जोरों पर है कि सिद्धू बनाम अमरिंदर की लड़ाई में जल्द फैसला आने वाला है।
आज ही कमेटी की बैठक
नवजोत सिंह सिद्धू और कैप्टन अमरिंदर का झगड़ा सुलझाने के लिए बनी जेपी अग्रवाल, खड़गे और हरीश रावत की कमेटी की आज तीन बजे बैठक होगी। माना जा रहा है कि इस बैठक में पंजाब संकट को लेकर कोई फाइनल फैसला हो जाए। सोनिया गांधी की ओर से इस कमेटी का गठन किया गया था और पूर्व में कमेटी के सदस्यों की कई बैठके हो चुकी हैं। इस कमेटी के लिए भी किसी नतीजे तक पहुंचना काफी मुश्किल हो रहा था। एक के बाद एक कांग्रेस के शीर्ष नेतृत्व की कई बैठक के बाद संभव है कि आज कमेटी किसी नतीजे पर पहुंच जाए।
राहुल से सिद्धू की नहीं हो पाई मुलाकात
मंगलवार के दिन खबर सामने आई कि राहुल गांधी और नवजोत सिंह सिद्धू की मुलाकात हो सकती है। हालांकि बाद में पार्टी के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि उनकी सिद्धू के साथ कोई बैठक तय नहीं हैं। राहुल गांधी मंगलवार को अपने आवास से कार चलाते हुए निकले तो मौके पर मौजूद पत्रकारों ने सिद्धू से उनकी मुलाकात की संभावना को लेकर सवाल किया। इसके जवाब में गांधी ने कहा कि उनकी और सिद्धू की कोई मुलाकात तय नहीं है। वहीं यह भी बताया गया कि राहुल गांधी हाल के दिनों में नेताओं की बयानबाजी से नाराज हैं।
सचिन पायलट के मामले भी प्रियंका ने उठाया कदम
पिछले दिनों राजस्थान के सियासी झगड़े को सुलझाने के लिए भी प्रियंका गांधी आगे आईं। जितिन प्रसाद के बीजेपी में शामिल होने के बाद सचिन पायलट की नाराजगी की खबरें एक बार फिर सामने आने लगी। सचिन पायलट की नाराजगी दूर करने के लिए प्रियंका गांधी की ओर से कवायद शुरू की गई। उन्होंने सचिन पायलट से बात की और उनके मामले में कदम उठाने का आश्वासन दिया गया।
-एजेंसियां