जापान में जो ‘ज़ेन’ है, भारत में वही ‘ध्यान’ है: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज अहमदाबाद प्रबंधन संघ में जापानी जेन गार्डन और कैजान अकादमी का डिजिटल रूप से उद्घाटन किया.
इस मौके पर उन्होंने कहा कि जापान में जो ‘ज़ेन’ है, भारत में वही ‘ध्यान’ है. पीएम ने कहा कि बाहरी प्रगति और विकास के साथ-साथ आंतरिक शांति ही दोनों संस्कृतियों की पहचान है.
इस मौके पर प्रधानमंत्री ने बताया कि केंद्र सरकार के कई विभागों, संस्थानों और योजनाओं में कैजान अकादमी का इस्तेमाल हो रहा है.
प्रधानमंत्री ने गुजरात को मिनी-जापान बनाने के अपने दृष्टिकोण के बारे में विस्तार से बताया. उन्होंने कहा कि इस कोशिश में ही ऑटोमोबाइल, बैंकिंग से लेकर कंस्ट्रक्शन और फार्मा तक 135 से ज्यादा कंपनियों ने गुजरात को अपना आधार बनाया है.
उन्होंने कहा, “हमें सदियों पुराने दोनों देशों के सांस्कृतिक संबंधों पर भरोसा है और भविष्य के लिए एक साझा नजरिया भी है.”
पीएम ने बताया कि हमने पीएमओ में जापान प्लस की खास व्यवस्था की है. उन्होंने कहा कि कोविड महामारी के दौरान वैश्विक स्थिरता और समृद्धि के लिए भारत-जापान मित्रता और भी महत्वपूर्ण हो गई है. प्रधानमंत्री ने टोक्यो ओलंपिक के लिए जापान और जापान के लोगों को अपनी शुभकामनाएं दी हैं.
एक विज्ञप्ति में कहा गया कि‘जेन-कैजान’ का मकसद जापानी कला, संस्कृति, प्राकृतिक छटा और वास्तुशिल्प के विभिन्न तत्वों को दर्शाना है. इसमें कहा गया है यह एएमए स्थित जापान सूचना एवं अध्ययन केंद्र तथा भारत-जापान मैत्री संघ (आईजेएफए), गुजरात का संयुक्त प्रयास है जिसे जापान के हयोगो इंटरनेशनल एसोसिएशन (एचआईए) का समर्थन प्राप्त है.
-एजेंसियां