ग्रीन एनर्जी बिजनेस: अब होगी अंबानी और अडानी में सीधी टक्‍कर

नई दिल्‍ली। देश को दो सबसे बड़े रईसों मुकेश अंबानी और गौतम अडानी के बीच सीधी टक्कर के लिए मैदान तैयार हो चुका है। देश की सबसे मूल्यवान कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज ने ग्रीन एनर्जी बिजनेस में उतरने की घोषणा की है। इसके लिए कंपनी ने मेगा प्लान बनाया है जिस पर 75,000 करोड़ रुपये का भारीभरकम निवेश किया जाएगा। अडानी ग्रुप पहले से ही इस फील्ड में है। अब रिलायंस की घोषणा से अंबानी और अडानी के बीच सीधी टक्कर होने जा रही है। संभवत: यह पहला मौका है जब रिलायंस ग्रुप और अडानी ग्रुप एक ही फील्ड में एकदूसरे से आगे निकलने की होड़ करेंगे।
रिलायंस की योजना
टेलिकॉम और रीटेल सेक्टर में झंडे गाड़ने के बाद, रिलायंस अब सोलर एनर्जी क्षेत्र की शक्ल बदलने जा रही है। गुरुवार को हुई कंपनी की एजीएम में कंपनी के चेयरमैन मुकेश अंबानी ने अगले 3 वर्षों में एंड टू एंड रिन्यूएबल एनर्जी इकोसिस्टम पर 75 हजार करोड़ रुपये के निवेश की घोषणा की। रिलायंस गुजरात के जामनगर में 5 हजार एकड़ में धीरूभाई अंबानी ग्रीन एनर्जी गीगा कॉम्पलेक्स बनाएगी।
100 गीगावॉट सोलर एनर्जी का लक्ष्य
2030 तक रिलायंस ने 100 गीगावॉट सोलर एनर्जी प्रोड्यूस करने का लक्ष्य रखा है। इसके लिए रिलायंस चार मेगा फैक्ट्री लगाएगा। जिनमें से एक सोलर मॉड्यूल फोटोवोल्टिक मॉड्यूल बनाएगी। दूसरी एनर्जी के स्टोरेज के लिए अत्याधुनिक एनर्जी स्टोरेज बैटरी बनाने का काम करेगी। तीसरी, ग्रीन हाइड्रोजन के प्रोडक्शन के लिए एक इलेक्ट्रोलाइजर बनाएगी। चौथी हाइड्रोजन को एनर्जी में बदलने के लिए फ्यूल सेल बनाएगी।
अडानी ग्रीन एनर्जी
रिलायंस के रिन्यूएबल एनर्जी बिजनेस में उतरने से उसका मुकाबला अडानी ग्रीन एनर्जी और गोल्डमैन सैक्स के निवेश वाली ReNew Power से होगा। अडानी ग्रीन एनर्जी मार्केट कैप के हिसाब से अडानी ग्रुप की सबसे बड़ी कंपनी है। इसका मार्केट कैप 1 लाख 82 हजार करोड़ रुपये के आसपास है। कंपनी ने 2025 तक 25,000 मेगावॉट क्षमता का लक्ष्य रखा है। अभी कंपनी की ऑपरेशनल पावर कैपेसिटी करीब 3.5 गीगावाट है।
अंबानी और अडानी
मुकेश अंबानी देश के सबसे बड़े रईस हैं जबकि गौतम अडानी दूसरे नंबर पर हैं। इस साल अडानी की नेटवर्थ में काफी इजाफा हुआ है और एक समय तो वह मुकेश अंबानी के बेहद करीब पहुंच गए थे। लेकिन पिछले सप्ताह अडानी ग्रुप के शेयरों में गिरावट से उनकी नेटवर्थ में गिरावट आई है।
Bloomberg Billionaires Index के मुताबिक मुकेश अंबानी 81.9 अरब डॉलर की नेटवर्थ के साथ एशिया में पहले नंबर पर हैं। वहीं गौतम अडानी 64.5 अरब डॉलर की नेटवर्थ के साथ एशिया में तीसरे स्थान पर हैं। इस साल अडानी की नेटवर्थ 30.7 अरब डॉलर बढ़ी है जबकि अंबानी की नेटवर्थ में 5.16 करोड़ रुपये का इजाफा हुआ है।
-एजेंसियां