सैन्य अधिकारियों के लग्जरी इंतजामों में कटौती का प्रस्‍ताव

नई दिल्‍ली। भारतीय सेना में खर्च में भारी कटौती करने और संसाधनों के बेहतर इस्तेमाल करने के लिए कुछ प्रस्ताव पेश किए गए हैं। इसमें समारोहों, मेस और कैंटीन के खर्च में कटौती करने का प्रस्ताव है। सेना दिवस और प्रादेशिक सेना दिवस में ब्रास बैंड, अधिकारियों की पर्सनल मेस, सीएसडी कैंटीन में कटौती का प्रस्ताव दिया गया है। इन प्रस्तावों में सैन्य अधिकारियों के लग्जरी इंतजाम में कट की बात कही गई है।
इंडियन एक्स्प्रेस के मुताबिक यह प्रस्ताव कमांड हेडक्वार्टर और निदेशकों को भेजे जा चुके हैं। आंतरिक समीक्षा रिपोर्ट में ये प्रस्ताव दिए गए हैं जिसका शीर्षक है, ‘ऑप्टिमाइजेशन ऑफ मैनपावर ऐंड रिसोर्सेजः रिव्यू ऑफ प्रैक्टिसेज ऐंड फैसिलिटीज इन इंडियन आर्मी।’ अखबार के मुताबिक इन प्रस्तावों में सेना दिवस और प्रादेशिक सेना दिवस समारोह को बंद करने की भी बात कही गई है।
सेना अपने कुछ खर्च में कटौती की तैयारी कर रही है। इसके तहत गणतंत्र दिवस परेड में भी कुछ कटौती की जा सकती है। यहां ड्रमों और पाइपों में भी कमी का प्रस्ताव है। बीटिंग रीट्रीट में भी 30 टुकड़ियों के बजाय 18 करने के प्रस्ताव भी है। जनरलों के आवास पर रक्षकों की संख्या भी घटाई जा सकती है। इसके घटाकर केवल चार तक करने का विचार है।
रिपोर्ट में प्रस्ताव रखा गया है कि देशभर में कई जगहों पर होने वाले रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों को समेटकर केवल राष्ट्रपति भवन तक सीमित कर दिया जाए और कार्यक्रम का आयोजन साल में केवल एक बार किया जाए। वहीं सेनाध्यक्ष और उप सेना प्रमुख के साथ केवल सेना कमांडरों को रातभर रहने पर रेजिडेंशल गार्ड दिए जाएं। सीएमपी सेंटर व स्कूल, मोटरसाइकल राइडर डिस्प्ले टीमों, सिग्नल ट्रेनिंग सेंटरों का विलय करने का भी प्रस्ताव है।
-एजेंसियां