जापान: श‍िंजो अबे ने औपचारिक रूप से इस्‍तीफा द‍िया, सुगा चुने गए पीएम

टोक्‍यो। लंबे समय से बीमार चल रहे जापान के प्रधानमंत्री श‍िंजो अबे ने आज अपने पद से औपचारिक रूप से इस्‍तीफा दे द‍िया। उनकी जगह पर योशिहिदे सुगा को औपचारिक तौर पर नया प्रधानमंत्री चुन ल‍िया गया है।
जापान की संसद में बुधवार को हुए मतदान में योशिहिदे सुगा को औपचारिक तौर पर नया प्रधानमंत्री चुना गया। स्वास्थ्य कारणों के चलते शिंजो आबे ने बुधवार सुबह प्रधानमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया था। सुगा को सोमवार को जापान की सत्तारूढ़ लिबरल डेमोक्रेटिक पार्टी का नया नेता चुना गया था और इसके साथ ही उनका प्रधानमंत्री बनना तय हो गया था।
मंत्रिमंडल के प्रमुख सचिव रहे योशिहिदे सुगा लंबे समय से आबे के करीबी रहे हैं। वह बुधवार को अपने मंत्रिमंडल का चुनाव करेंगे। इससे पहले जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे ने पद से इस्तीफा देते हुए अपने उत्तराधिकारी के लिए राह साफ कर दिया था। जापान के सबसे लंबे समय तक प्रधानमंत्री रहे आबे ने पिछले महीने घोषणा की थी कि वह स्वास्थ्य कारणों के चलते पद छोड़ेंगे।
मंत्रिमंडल के प्रमुख सचिव योशिहिदे सुगा को सोमवार को जापान की सत्तारूढ़ लिबरल डेमोक्रेटिक पार्टी का नया नेता चुना गया था और इसके साथ ही उनका प्रधानमंत्री बनना तय हो गया था। वह आबे के काफी करीबी हैं और 2006 से उनके समर्थक रहे हैं। आबे के उत्तराधिकारी को चुनने के लिए हुए आंतरिक मतदान में सुगा को सत्तारूढ़ लिबरल डेमाक्रेटिक पार्टी में 377 वोट मिले और अन्य दो दावेदारों को 157 वोट हासिल हुए थे।
सुगा ने कहा कि वह आबे की नीतियों को ही आगे बढ़ाएंगे और उनकी प्राथमिकता कोरोना वायरस से निपटना और वैश्विक महामारी के दौरान अर्थव्यवस्था बेहतर करना होगा। योशोहिदे सुगा एक आम किसान के बेटे हैं, उनके पिता स्ट्रॉबेरी की खेती करते थे। अपने गृहनगर में हाईस्कूल की पढ़ाई पूरी करने के बाद वे तोक्यो आ गए। एक मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक अपना खर्च चलाने के लिए उन्हें कभी कार्डबोर्ड फैक्ट्री में नौकरी करनी पड़ी तो कभी फिश मार्केट में भी काम करना पड़ा।
दरअसल, सुगा काम के साथ ही यूनिवर्सिटी में पढ़ाई कर रहे थे, यहां नौकरी कर उन्हें खर्चा चलाने में मदद मिल जाती थी।
-एजेंसियां