प्रेग्नेंट हथिनी को पटाखे खिलाने वाले आरोपियों को पकड़वाने वालों को मिलेंगे 1.5 लाख रूपये, हुई घोषणा

केरल में इंसानी बर्बरता का शिकार हुई गर्भवती हथिनी की दर्दनाक मौत पर देश के कोने-कोने से लोग अपना गुस्सा दर्शा रहे है और पटाखों से भरा अनानास खाने के बाद हथिनी की हुई मौत के जिम्मेदार लोगों के खिलाफ कार्रवाई के करने लिए जोर-शोर से आवाजें उठाई जा रही हैं.
इस घटना को लेकर अब वाइल्ड लाइफ एसओएस ने मांग है कि इस घटना के दोषियों को जल्द-से-जल्द सजा दी जाए और उन अपराधियों के खिलाफ मामला दर्ज किया जाए. इस बारे में अब केरल के स्टेट फॉरेस्ट डिपार्टमेंट के लोग घटना की जांच कर रहे हैं और उनकी रिपोर्ट का इंतजार एसओएस कर रहा है.
इतना ही नहीं, वाइल्ड लाइफ एसओएस ने हथिनी की हत्या में शामिल आरोपियों को पकड़वाने पर एक लाख का इनाम भी घोषित कर दिया है. उनका कहना है कि जो कोई भी इस मामले में वन विभाग की आरोपियों को ढूढने में मदद करेगा, उसे वाइल्डलाइफ एसओएस की ओर से 1 लाख रूपये का इनाम दिया जाएगा.
इसके लिए संस्था ने एक नंबर भी जारी किया है. संस्था की ओर से कहा गया है कि हाथियों के बचाने के अभियान से जुड़ने के लिए और आरोपियों को पकड़वाने के लिए एलीफैंट हेल्पलाइन नंबर +91-9971699727 पर फोन कर सूचना दें या आप info@wildlifesos.org पर मेल भी कर सकते हैं.
एसओएस के अलावा गर्भवती हथिनी की मौत मामले पर ह्यूमन सोसाइटी इंटरनेशनल ने भी घोषणा की है कि जो कोई भी हथिनी के आरोपियों की पहचान कराने में मदद करेगा, उसे 50,000 रुपये का पुरस्कार दिया जाएगा.
वहीँ, केंन्द्रीय मंत्री प्रकाश जावडेकर ने जल्द और गम्भीरता के साथ कार्यवाई करने की मांग की है.
बताते चले कि केरल के पलक्कड़ जिले में गर्भवती हथिनी को कुछ लोगों ने साइलेंट वैली जंगल में पटाखों से भरा एक अनानास खिला दिया था जो हथिनी के मुंह में ही फट गया था. हथिनी एक हफ्ते तक जख्मी मुंह के साथ पानी में खड़ी रही और फिर उसकी मौत हो गई. इस घटना में सबसे दुखद बात ये रही कि हथिनी गर्भवती थी