सर्दियों में रोज नहाना कोई समझदारी की बात नहीं, जानिए

ठंड का मौसम जारी हैं और इस कंपकपाती ठंड में पानी को देखकर ही डर लगने लगता हैं। कई लोग तो इस ठंड के मारे कई दिनों तक नहाते भी नहीं हैं। वहीँ दूसरी ओर कई लोग हैं जो कड़ाके की ठंड में भी रोज नहाना पसंद करते हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं कि सर्दियों में रोज नहाना कोई समझदारी की बात नहीं हैं क्योंकि इससे आपको कई नुकसान हो सकते हैं। तो आइये हम बताते हैं आपको इसके बारे में विस्तार से।

सर्दियों में हम अक्सर गर्म पानी से नहाते हैं और यह अच्छा लगता है, इसलिए देर तक नहाते हैं। ऐसा करना हमारे लिए नुकसानदेह भी हो सकता है। गर्म पानी से ज्यादा देर तक नहाने से त्वचा के प्राकृतिक तेल निकल जाते हैं, त्वचा शुष्क हो सकती है। इसलिए डॉक्टर सलाह देते हैं कि गर्म पानी से 10 मिनट से ज्यादा नहीं नहाना चाहिए।

त्वचा के संबंध में पहले हुई रिसर्च के अनुसार, हमारी त्वचा इसे स्वस्थ रखने वाले कुछ अच्छे बैक्टीरिया भी पैदा करती है, जोकि हमारी त्वचा को केमिकल टॉक्सिन से भी बचाते हैं। गर्म पानी से नहाने से हमारी त्वचा के नैचुरल आॅयल निकल जाने से हमारी प्रतिरोधक क्षमता को सपोर्ट करने वाले ये अच्छे बैक्टीरिया भी हट जाते हैं। इसलिए सर्दियों में बहुत जरुरी न हो तो हफ्ते में तीन-चार दिन ही नहाना चाहिए।

अमेरिका में कुछ महीने पहले हुई रिसर्च में बताया गया था कि लोग सामाजिक दबाव में रोज नहाते हैं। कई सारे अध्ययन में ये बात बताई जा चुकी है कि हमारी त्वचा में खुद को साफ करने की बेहतर क्षमता होती है। इसलिए, अगर आप रोज पसीना बहाने वाले काम, जैस जिम जाना वगैरह नहीं करते, गंदगी में नहीं रहते तो रोज नहाना बहुत जरुरी नहीं है।
रोजाना गर्म पानी से नहाना आपके नाखूनों को भी नुकसान पहुंचाता है। गर्म पानी से नहाने के दौरान इसके भी नैचुरल आॅयल निकल जाने से ये शुष्क और कमजोर हो जाते हैं। नहाने का पानी सोखने के कारण भी यह कमजोर होकर टूट जाते हैं। इसलिए रोज गर्म पानी से नहाने से बचना चाहिए।