सरकार 11वीं, 12वीं की छात्राओं को देगी स्मार्ट फोन, करना होगा ये काम

कैप्टन सरकार ने सत्ता में आने से पहले हर पढ़े-लिखे बेराेजगार युवक युवती काे स्मार्ट फोन देने का वादा किया था। इसका जिक्र कांग्रेस ने अपने चुनावी घाेषणा पत्र में भी किया था। लेकिन अब सरकार अपने किए वादे से मुकर गई। राज्य सरकार ने संबंध में नाेटिफिकेशन में संशाेधन किया है।

योजना के तहत अब केवल सरकारी स्कूलों में 2019-2020 के दौरान 11वीं और 12वीं कक्षा में पढ़ने वाली लड़कियों को स्मार्ट फोन मिलेंगे। दरअसल, कैप्टन सरकार ने 8 फरवरी 2019 के पंजाब स्मार्ट कनेक्ट स्कीम संबंधी नोटिफिकेशन के क्लाज 4.0 और 5.0 में संशोधन कर दिया है।

क्लाज 4.0 के तहत पंजाब के सरकारी स्कूलों में 12वीं कक्षा में पड़ रही नियमित छात्राओं या सरकारी आईटीआई, पाॅलिटेक्निक व कालेजों में अंडर ग्रेजुएट कोर्स के फाइनल ईयर में पढ़ रही नियमित छात्राएं जिनके पास स्मार्टफोन नहीं है उन्हें ही स्मार्टफोन दिए जाएंगे। सरकार ने नोटिफिकेशन में स्पष्ट किया कि स्मार्ट फोन 11वीं-12वीं में पढ़ रही छात्राओं को ही देगी।

इस तरह का होगा स्मार्टफोन

संशोधित नोटिफिकेशन के क्लाज 5.0 के तहत, सरकार ने स्मार्टफोन और उसके नेटवर्क के न्यूनतम मापदंड भी तय कर दिए हैं। इसके अनुसार, स्मार्ट फोन का आपरेटिंग सिस्टम एंड्रायड ओरियो 8.0 होगा और प्रोसेसर 1.2 गीगाहर्टज, रैम 2 जीबी, मैमोरी 16 जीबी (128 जीबी तक बढ़ाई जा सकेगी), स्मार्टफोन का डिसप्ले साइज 5.0 इंच और रेजोलुशन 1280 गुना 720 पिक्सल होगा। फ्रंट कैमरा 5 मैगा पिक्सल और रियर कैमरा 8 मैगा पिक्सल का होगा। यह स्मार्ट फोन 4जी, 3जी और 2जी नेटवर्क को स्पोर्ट करेगा। इसकी बैटरी 2900 एमएएच की और स्मार्ट फोन की वारंटी एक साल की होगी।