आम आदमी के लिए बड़ी खुशखबरी, जानिए

प्रधानमंत्री उज्जवला योजना की तर्ज पर पीएनजी कनेक्शन लगाने पर भी आपको सब्सिडी का फायदा मिल सकता है। सूत्रों से मिली एक्सक्लूसिव जानकारी के मुताबिक, शहरी गरीब कंज्यूमर को पीएनजी कनेक्शन लेने में आर्थिक मदद देने पर विचार किया जा रहा है। इस पर पेट्रोलियम मंत्रालय प्रस्ताव तैयार कर रहा है।

सूत्रों के मुताबिक, इस स्कीम के तहत पीएनजी कनेक्शन कॉस्ट का एक हिस्सा सरकार वहन करेगी। इस मॉडल में राज्यों को शामिल करने की योजना है। प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना की तर्ज पर स्कीम लाने पर विचार किया जा रहा है। इसके लिए गुजरात मॉडल का अध्ययन किया जा रहा है। इस योजना के पहले चरण में 400 जिलों में कनेक्शन लगाने का लक्ष्य है। सरकार 2030 तक एनर्जी खपत में गैस की हिस्सेदारी 15% करना चाहती है।

फिलहाल, पीएनजी कनेक्शन लेने पर ग्राहकों को 5-6 हजार रुपये देना होता है। पीएनजी कनेक्शन में आर्थिक मदद देने के लिए गुजरात मॉडल का अध्ययन किया जा रहा है। गुजरात सरकार गरीब शहरी परीवारों को पीएनजी कनेक्शन पर करीब 1600 रुपये की सब्सिडी देती है। नीति आयोग ने भी कनेक्शन की संख्या बढ़ाने के लिए सिफारिश की है।

सरकार अब जल्द ही पेट्रोल और डीजल की तर्ज पर सीएनजी की होम डिलिवरी शुरू करने की इजाजत देने जा रही है। पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान के मुताबिक, सरकार कंपनियों को जल्द सीएनजी की होम डिलिवरी की इजाजत देगी।

बता दें कि इससे पहले सरकार ने डीजल की होम डिलिवरी की सुविधा शुरू की थी। पेट्रोलियम मंत्री ने कहा कि सरकार पेट्रोल-डीजल की तर्ज़ पर सीएनजी की होम डिलीवरी की भी योजना बना रही है। इस पर काम शुरू कर दिया गया है। जल्द ही कंपनियों को इसकी इजाजत मिलेगी। सरकारी कंपनी इंद्रप्रस्थ गैस लिमिटेड सीएनजी की होम डिलिवरी करेगी।