10 आयुर्वेदिक ऐसी उपलब्धियां जो भारत का गर्व बनी है, जानिए नाम

आयुर्वेद हमारे देश का वह खजाना है जिसके जरिये आज पूरी दुनिया को स्रजरी का महत्व और तोहफा मिला है । सर्जरी की करने का प्रारूप आयुर्वेद से ही मिलता है । आज हम आपको बताने जा रहे हैं की ऐसे में इस साल हमारे देश का सबसे बड़ा खजाना क्या उपलबधिया हासिल किए हुए हैं ।

आयुर्वेद को साइंस ऑफ लाइफ कहा गया है । इसमे सिर्फ नेचुरल दवाओं के जरिये ही नही बल्कि योग के जरिये और भी कई सारे तरीकों के जरिये हमारी बीमारियों का इलाज़ किया उजाता है आयुर्वेद का फलसफा होता है की वह रोग को जड़ से खत्म कर दे ।

2017 में आयुर्वेद को नई पहचान मिली । प्रधानमंत्री के द्वारा उस दिन को आयुर्वेद दिवस के रूप से बहुत विशाल रूप में मनाया गया ।

ऑल इंडिया इंस्टीट्यूट ऑफ आयुर्वेद (AIIA) और नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ कैंसर प्रिवेंशन एंड रिसर्च (NICPR) के संयुक्त उपक्रम के रूप में, सेंटर ऑफ इंटीग्रेटिव ऑन्कोलॉजी (CIO) के साथ स्थापित किया गया है। कैंसर की रोकथाम और प्रबंधन के क्षेत्र में एकीकृत अभ्यास का इरादा।वर्ष 2016 में एआईआईए और एनआईसीपीआर के बीच समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए गए हैं।कैंसर जागरूकता सप्ताह” के जश्न के दौरान सीआईओ के वेबसाइट लिंक को निदेशक, एआईआईए द्वारा फरवरी, 2018 में लॉन्च किया गया था।