बालों को झड़ने से रोकने के लिए करें ये उपचार, जानिए

आजकल की भागदौड़ भरी जिंदगी के कारण इंसान अपने लिए और अपने शरीर के लिए समय नहीं निकाल पा रहा है। अव्यवस्थित खान पान के कारण आजकल लोगों में बालों से सम्बंधित परेशानियां बढ़ गई है।

आजकल की भागदौड़ भरी जिंदगी के कारण इंसान अपने लिए और अपने शरीर के लिए समय नहीं निकाल पा रहा है। अव्यवस्थित खान पान के कारण आजकल लोगों में बालों से सम्बंधित परेशानियां बढ़ गई है। दरअसल, इसका कारण शहर का प्रदूषण, धूल, धुवां और दूषित भोजन-पानी है। इस सबके कारण सिर से लेकर पांव तक त्वचा रुखी हो जाती है। रुखी त्वचा से जहां, डैंड्रफ और बालों से संबंधित अन्य रोग होते हैं वहीं यह चर्म रोग का कारण भी बन सकता है।

बता दे कि अचानक गंजापन और बालों का झड़ना किसी बीमारी का कारण हो सकता है, इसलिए आपको तुरंत डॉंक्टरी सलाह लेनी चाहिए। आजकल महिलाओं में भी यह समस्या काफी दिख रही है। इस बीमारी को डॉ एलोपेसिया कहते हैं। तो चलिए जानते जानते है क्या होता है एलोपेसिया और कैसे इसे ठीक किया जा सकता है।

पहले एसा कहा जाता था की गंजापन सिर्फ पुरशो को ही होता है लेकिन आज कल ये महिलाओं में भी आम बात हो गई है। ये हार्मोनल चंजेस के कारण होता है। दरअसल, फोलीसाइल सिकुड़ने लगते हैं तो बाल झड़ने शुरू हो जाते हैं और वहां गंजापन आ जाता है। महिलाओं में यह समस्या सबसे ज्यादा देखने को मिलती है। कई बार इसी समस्या के चलते लम्बे और मोटे बाल, छोटे और पतले बालों में बदल जाते हैं। महिलाओं में एकदम से कभी भी गंजापन नहीं आता। पहले उनके बाल झड़ते हैं, पतले होते होते है और बाद में गंजापन आ जाता है।