ऑलराउंडर बनने की चाहत में खत्म हुआ इन गेंदबाजों का करियर, नंबर 1 को भूल गए होंगे आप

1. प्रवीण कुमार: दाएं हाथ के बेहतरीन तेज गेंदबाज रहे प्रवीण कुमार अपने करियर के दौरान वह स्विंग गेंद के महारथी माने जाते थे। वह निचले क्रम में बल्ले से भी टीम को योगदान देने लगे। जिसके बाद ऑलराउंडर बनने की चाहत ने उनके करियर पर विराम लगा दिया और वह धीरे-धीरे अपनी धार खोते चले गए।
2. हरभजन सिंह: ऑफ स्पिनर हरभजन सिंह 39 की उम्र में भी क्रिकेट में सक्रिय है। लेकिन उन्हें टीम इंडिया में जगह नहीं मिल पा रही है। अपने करियर के अंतिम दिनों में वह टीम इंडिया के लिए निचले क्रम के एक अच्छे बल्लेबाज बन चुके थे। बल्ले की वजह से गेंद पर उनका प्रदर्शन गिरता चला गया।
3. इरफान पठान: भारतीय क्रिकेट टीम के बाएं हाथ के मध्यम गति के गेंदबाज इरफान पठान अपनी गेंदबाजी के साथ-साथ भारतीय टीम के लिए नंबर 3 पर आकर बल्लेबाजी भी की है। इरफान पठान गेंदबाजी और बल्लेबाजी दोनों का मिश्रण अपने करियर में ठीक से नहीं बैठा पाए और करियर पर विराम लगा दिए।