इस वर्ष सरकारी बैंकों की कुल शिकायतों में पहले नंबर पर है SBI

सरकारी बैंकों को वित्त वर्ष 2018-19 में जुलाई-जून अवधि में 1.2 लाख शिकायतें मिलीं, जिसमें भारतीय स्टेट बैंक SBI पहले स्थान पर रहा।
भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) द्वारा जारी रिपोर्ट के अनुसार निजी बैंकों के मुकाबले सरकारी बैंकों में काफी शिकायतें मिलीं। ज्यादातर शिकायतें क्रेडिट या डेबिट कार्ड को लेकर के रहीं हैं।
रिपोर्ट के मुताबिक बैंकों में नियमों का पालन न करने को लेकर के ग्राहकों की तरफ से शिकायतें दूसरे नंबर रही हैं। सरकारी बैंकों से ग्राहक काफी परेशान दिखें, जिसके चलते उनकी शिकायतें आरबीआई से की गई थीं।
पहले स्थान पर SBI
इस रिपोर्ट के अनुसार सरकारी बैंकों में पहले स्थान पर SBI रहा जबकि दूसरे स्थान पर रहा पंजाब नेशनल बैंक। तीसरे स्थान पर बैंक ऑफ बड़ौदा रहा है। SBI के खिलाफ जितनी शिकायतें मिलीं, वो सभी 18 सरकारी बैंकों के मुकाबले आधी हैं।
वहीं निजी बैंकों की अगर बात की जाए तो कुल 55 हजार शिकायतें आरबीआई को मिली। इनमें एचडीएफसी बैंक पहले स्थान पर, आईसीआईसीआई बैंक दूसरे स्थान पर और एक्सिस बैंक तीसरे स्थान पर रहा। इन बैंकों के खिलाफ ग्राहकों ने बिना बताए खाते से पैसा काटने की शिकायतें दर्ज की हैं। ज्यादातर शिकायतें बड़े शहरों से चली हैं। आरबीआई द्वारा चलाए जा रहे ग्राहक अवेयरनेस कार्यक्रमों से ग्राहक ज्यादा शिकायतें दर्ज कर रहे हैं। हालांकि शिकायतों की संख्या में पिछले साल के मुकाबले 32,311 की बढ़ोत्तरी देखी गई है।
-एजेंसियां

The post इस वर्ष सरकारी बैंकों की कुल शिकायतों में पहले नंबर पर है SBI appeared first on updarpan.com.