आपस में भिड़ गए थे दो बांग्लादेशी खिलाड़ी, पड़ गए लेने के देने

बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड ने पूर्व टेस्ट गेंदबाज शहादत हुसैन को बर्खास्त कर दिया है। इस समय चल रहे राष्ट्रीय क्रिकेट लीग में उनके खेलने पर भी बैन लगा दिया है। दरअसल, शहादत पर खुलना के शेख अबू नेसर स्टेडियम में ठाका डिवीजन और खुलना डिवीजन के बीच हुए मुकाबले में दूसरे दिन के खेल के दौरान साथी खिलाड़ी अराफात सनी के साथ मारपीट का मामला था। 

 

रिर्पोट्स के मुताबिक शहादत और अराफात के बीच गेंद की एक साइड को चमकाने को लेकर बहस हुई थी। जिस बात पर गुस्सा होकर शहादत ने अराफत पर हमला कर दिया था, जिसके बाद बाकी खिलाड़ियों को बीच में आकर दोनों को आकर अलग करना पड़ा।

क्रिकबज की खबर के मुताबिक बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड ने शहादत को लेवल चार के अपराध के तहत दोषी पाया है, जिससे उनपर बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड के किसी भी टूर्नामेंट में हिस्सा लेने पर एक साल बैन और 50 हजार टका (बांग्लादेशी रुपये) का जुर्माना लग सकता है। 

बता दें कि शहादत ने अपना गुनाह कबूल कर लिया और वह घर लौट गए हैं। बोर्ड ने मैच रैफरी की रिर्पोट तकनीकी कमेटी को सौंप दी है, जो अब उनके भविष्य को लेकर फैसला लेगी। बताया जा रहा है कि इस व्यवहार के लिए अब शहादत पर एक साल का बैन लग सकता है। 

33 साल के शहादत ने बांग्लादेश के लिए 38 टेस्ट, 51 वन-डे और छह टी-20 अंतरराष्ट्रीय मैच खेले हैं। 2005 से 2015 के बीच शहादत ने 100 विकेट हासिल किए हैं।