बांग्लादेश क्रिकेट टीम के स्टार ऑलराउंडर शाकिब अल हसन पर इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल ने दो साल का प्रतिबंध लगा दिया है। आईसीसी ने फिक्सिंग के लिए संपर्क किए जाने की सूचना नहीं दिए जाने की वजह से शाकिब के खिलाफ यह फैसला सुनाया है। आईसीसी द्वारा दुनिया के नंबर एक वनडे ऑलराउंडर और बांग्लादेशी टी20 कप्तान पर दो साल का बैन लगाने का फैसला लिया गया है।

आईसीसी द्वारा दी गई जानकारी के मुताबिक 29 अक्टूबर 2020 से शाकिब इंटरनेशनल क्रिकेट में वापसी कर सकते हैं। आईसीसी ने शाकिब पर सभी तरह की क्रिकेट के खेलने पर पाबंदी लगा दी है। शाकिब पर प्रतिबंध दो साल का है लेकिन एक साल को निलंबित कर दिया गया है। आईसीसी ने बांग्लादेशी कप्तान पर लगाए गए प्रतिबंध की जानकारी देते हुए बताया कि उनके उपर दो साल का प्रतिबंध लगाए जाने का फैसला लिया गया है जिसमें से एक साल ही प्रभावी होगा।
16 नवंबर 2019 को शाकिब अल हसन ने अपने ट्विटर अकाउंट से अपनी एक तस्वीर पोस्ट की है, जिसमें वह सऊदी अरब के मक्का शहर में काबा शरीफ के सामने खड़े हैं। हज करने के बाद शाकिब अल हसन को मानसिक शांति मिलेगी।