क्या आप जानते हैं? भारत के इन 5 शहरों में पड़ती है सबसे ज्यादा ठंड!

india
क्या आपको पता है कि भारत में भी कई ऐसी सिटी है, जहां पलके जमा देने वाली ठंड पड़ती है। क्योंकि ज्यादातर लोग भारत छोड़कर स्विट्जरलैंड और फिनलैंड जैसी जगह ट्रिप पर जाते हैं, जिससे वह ठंडी बर्फीली हवाओं और खूबसूरत पहाड़ों का मजा ले सकें। अगर आप भी ऐसी जगह की तलाश में हैं, जहां आप ठंड का असली मज़ा ले सकें तो आप भारत के इन 5 शहरों के बारें में जरूर जानें। ये जगहें बहुत ही खूबसूरत ट्रैवल डेस्टिनेशन में शुमार हैं। इसके साथ ही आपको यहां आने पर महसूस होगा कि आप स्विट्जरलैंड जैसी जगह में आ गए हैं। तो आइए जानते हैं इनके बारे में…

 द्रास (Dras)

द्रास, जम्मू-कश्मीर के कार्गिले जिले का एक छोटा सा शहर है। ज्यादातर लोग यहां लद्दाख जाते समय जाते हैं। द्रास, कश्मीर की सियालकोट घासी में है। इस जगह ठंड के मौसम न्यूनतम तापमान -45 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच जाता है। हालांकि, 1995 में यहां सबसे कम तापमान -60 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया था। द्रास का नाम भारत के सबसे ठंडे शहरों में शुमार है।

लेह (Leh)

लेह, लद्दाख की राजधानी है। यह भारत के खूबसूरत और लोकप्रिय टूरिस्ट डेस्टिनेशन में से एक है। लेह अपने प्राचीन इतिहास और सुंदर प्राकृतिक सौंदर्य के लिए फेमस है। यहां आकर टूरिस्ट शांति स्तूप, पेन्गॉन्ग लेक, लेह पैलेस जैसी खूबसूरत जगहों पर जाना पसंद करते हैं। सर्दियों में यहां का तापमान आमतौर पर -20 डिग्री से -15 डिग्री सेल्सियस तक रहता है। लेकिन यहां का अब तककासबसे कम तापमान -28.3 डिग्री सेल्सियस तक पहुंचा है।

नॉर्थ सिक्किम, लाचेंग और थंगू वैली (Lachung  Yumthang Valley)

नॉर्थ सिक्किम कंचनजंगा की पहाड़ियों में स्थित है। यहां भारत के दो सबसे ठंडे शहर हैं लाचेंग और थंगू वैली हैं। यह टूरिस्ट के फेवरेट प्लेसेस में से एक है। यहां आकर टूरिस्ट जीरो प्वाइंट, क्रो लेक, लाचुंग मॉनेस्ट्री घूमने जाते हैं। यहां ज्यादातर लोग गर्मी की छुट्टियां मनाने के लिए जाते हैं। यहां पर सर्दियों में न्यूनतम तापमान -40 डिग्री सेल्सियस तक रहता है।

स्पीति, काज़ा (Kaza)

इसका अर्थ है ‘बीच वाली जमीन’ क्योंकि ये तिब्बत और भारत के बीच में है। यहां काज़ा शहर 3800 मीटर की ऊंचाई पर मौजूद है। यहां बौद्ध संस्कृति को लोग मानते हैं। काजा याक और मोमोज के लिए भी भारत भर में प्रसिद्ध है। ये शहर लद्दाख टूरिज्म का अहम पार्ट है। यहां पर सर्दियों में न्यूनतम तापमान -30 डिग्री सेल्सियस तक रहता है।

कार्गिल (Kargil)

कार्गिल शहर सुरु नदी के पास है। यह कारगिल युद्ध के अलावा भी कई चीजों के लिए मशहूर है। यह शहर के 15 km दूर ही पशखूम शहर के महल और खंडहर हैं। कार्गिल, समुद्र तल से 2676 मीटर ऊपर है। इतना ही नहीं, यहां कारगिल-लेह रोड पर एक बौद्ध सिटी है, इसे ‘मुलबेक’ नाम से जाना जाता है। यहां आकर आप एक अलग ही एक्सपीरियंस करेंगे। यहां सर्दियों में तापमान -40 डिग्री सेल्सियस तक चला जाता है।