ब्राज़ील में मिला दुनिया का सबसे पुराना नरभक्षी डायनासोर, अभी भी सुरक्षित है पूरा शरीर

दुनिया का सबसे पुराने आदमखोर डायनोसोर की कल्पना से भी रूह कांपने लगती है. विज्ञान की भाषा में इस डायनोसोर को ग्नाथोवोरैक्स कैब्रिरे कहा जाता हैं. ब्राज़ील के दक्षिणी प्रांत में कुछ शोधकर्ताओं को इस अनोखे डायनोसोर का जीवाश्म मिला है. अब तक के इतिहास में ये पहली बार है जब ग्नाथोवोरैक्स कैब्रिरे को शोधकर्ताओं ने खोज निकाला.
बताया जाता है कि ये नरभक्षी डायनोसोर पृथ्वी पर उस समय पाया जाता था, जब पृथ्वी के सारे देश अलग भी नहीं हुए थे. ब्राज़ील उस समय पैंजिया का ही हिस्सा हुआ करता था. पैंजिया के काल में पृथ्वी पर पानी एक ओर था और ज़मीन एक ओर. यानी उत्तर और दक्षिण अमेरिका की धरती उस समय बंटी भी नहीं थी. ब्राज़ील में इस डायनोसोर की उपस्थिति 23 करोड़ साल पहले थी. इतिहासकारों और वैज्ञानिकों के लिए इस डायनोसोर के जीवाश्म का मिलना बहुत बड़ी कामयाबी मानी जा रही है.विज्ञान पत्रिका पीरजे में छपी रिपोर्ट में कहा गया है कि इस डायनोसोर का जबड़ा सबसे मज़बूत और काफी ख़तरनाक था. बताया गया है कि अपने दांत और जबड़ों की शक्ति की बदौलत ये ‘किलिंग मशीन’ का रूप अख़्तियार कर लेता था. 23 करोड़ वर्ष पुराना ये जीवाश्म पूरी तरह सुरक्षित है और हैरानी की बात ये है कि डायनोसोर की पूरी बॉडी बरामद हुई है.