शिवसेना ने तोड़ी भाजपा से दोस्ती, गिरिराज बोले- कराह रहे होंगे बाला साहेब ठाकरे

महाराष्ट्र विधानसभा में गठबंधन कर चुनाव लड़ने वाली भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और शिवसेना की 30 वर्ष पुरानी मित्रता टूट गई है. कारण बना सत्ता का संघर्ष. इस मामले पर भाजपा के फायरब्रांड नेता और केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने भी अपनी राय देते हुए कहा कि हिंदुत्व विरोधियों के साथ जाता देख बाला साहेब ठाकरे और शिवसैनिक कराह रहे होंगे.
गिरिराज सिंह ने एक तस्वीर ट्वीटर पर साझा की है, जिसमें पूर्व पीएम अटल बिहार वाजपेयी, लालकृष्ण आडवाणी के साथ बाला साहेब ठाकरे दिखाई दे रहे हैं. गिरिराज सिंह ने ट्वीट करते हुए लिखा है कि, ‘बाला साहेब के वर्षों की तपस्या ने सनातनियों को महाराष्ट्र में एक उम्मीद और पहचान दिया. आज हिंदुत्व विरोधियों के साथ जाता देख बाला साहेब और शिवसैनिक कराह रहे होंगे. इतिहास गवाही देगा कि कैसे बाला साहेब ने सबको एक किया और कुछ ने सबको बिखेर दिया.’

आपको बता दें कि महाराष्ट्र चुनाव में भाजपा ने 105 सीटों पर कब्ज़ा जमाया, वहीं शिवसेना के 56 प्रत्याशी चुनाव जीतने में सफल रहे. रिजल्ट आने के बाद शिवसेना ने CM पद और 50-50 फॉर्मूले की मांग भाजपा के सामने रख दी, जिसे खारिज कर दिया गया. इसके बाद पहले शिवसेना केंद्र सरकार से अलग हुई और उसके बाद विपरित विचारधारा वाली पार्टी कांग्रेस और एनसीपी के साथ मिलकर सरकार बनाने का प्रयास कर रही है.