अयोध्या मामले पर माधव गोडबोले का यह ब्यान सुन आपके होश उड़ जायेंगे

मिली जानकारी के अनुसार, माधव गोडबोले ने दावा किया है कि पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी के समय राम मंदिर विवाद का समाधान हो सकता था. आपको बता दें कि 1992 में नरसिम्हा राव प्रधानमंत्री थे, उस वक्त माधव गोडबोले गृह सचिव के पद पर थे. 1986 में राजीव गांधी सरकार ने बाबरी मस्जिद के ताले खोलने के आदेश दिए थे, 6 दिसंबर 1992 को विवादित ढांचा गिराया गया था.