IAF चीफ ने लिया बड़ा फैसला, देश में होगा ये बदलाव, जानिए

वायुसेना प्रमुख एयर मार्शल आरके सिंह भदौरिया ने स्वदेशी लड़ाकू विमानों को खरीदने का बड़ा निर्णय लिया है. भदौरिया ने  भारतीय वायु सेना (IAF) के सरकार से कहा है कि वह हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड (HAL) के लगभग 300 स्वदेशी रूप से निर्मित लड़ाकू विमानों और बेसिक ट्रेनर को खरीदना चाहती है|

iaf साठी इमेज परिणाम

रिपोर्ट के अनुसार, IAF का कहना है कि विमान का डिजाइन, निर्माण और वितरण को निर्धारित समय सीमा के भीतर होना चाहिए| अधिकारी ने कहा “एरोनॉटिकल डेवलपमेंट एजेंसी (ADA) और एचएएल को एक साथ आना होगा| एडीए रक्षा अनुसंधान विभाग और रक्षा मंत्रालय के तहत काम करता है और भारत के एलसीए (हल्के लड़ाकू विमान) कार्यक्रम की देखरेख करता है|

iaf साठी इमेज परिणाम

IAF का सरकार से कहना है कि वह तेजस मार्क- II के 10 स्क्वाड्रन को खरीदने के लिए प्रतिबद्ध है. लड़ाकू विमानों के अलावा, IAF ने सरकार से यह भी कहा है कि वह नए बने ट्रेनर विमान HTTP -40 को भी खरीदेगी|

iaf साठी इमेज परिणाम

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि,  IAF ने तेजस के शुरुआती संस्करण के 40 लड़ाकू विमानों को पहले भी खरीदा था| रिपोर्ट के अनुसार एक अधिकारी ने कहा 83 स्वदेशी रूप से निर्मित तेजस मार्क -1 फाइटर्स की खरीद के लिए अंतिम अनुबंध पर वर्तमान वित्तीय के अंत तक हस्ताक्षर किए जाएंगे|