सेमीफाइनल में नंबर 4 पर खेलना चाहते थे कप्तान कोहली, इस इंसान की जिद ने गंवाया वर्ल्डकप !

World Cup 2019 के पहले सेमीफाइनल में टीम इंडिया को करारा झटका लगा था जब न्यूजीलैंड ने उसे 18 रनों से हराकर वर्ल्डकप से बाहर कर दिया था. इस हार से दुनियाभर में बसे भारतीयों में मायूसी छा गई थी और 130 करोड़ भारतीयों का दिल टूट गया था. अब इस मैच को लेकर एक बड़ा खुलासा हुआ है.
रिपोर्ट के अनुसार, इस मैच में भारतीय कप्तान विराट कोहली तीसरे नंबर पर नहीं बल्कि चौथे नंबर पर बल्लेबाजी के लिए आना चाहते थे. भारतीय कप्तान, ओपनर रोहित शर्मा के आउट होने के बाद तीसरे नंबर पर रिषभ पंत या हार्दिक पांड्या में से किसी एक को भेजना चाहते थे.

कोहली जानते थे कि तेज स्विंग ले रही पिच पर 240 रन बनाना इतना आसान नहीं है और वह नंबर चार पर मजबूत बल्‍लेबाज चाहते थे. कोहली को पता था कि शुरुआत के 45 मिनट बल्लेबाजों को खड़े रहकर खेलना होगा. इस वजह से वह थोड़ा रुककर बल्लेबाजी के लिए आना चाहते थे.

हालांंकि टीम मैनेजमेंट ने उनकी एक न सुनी और उन्हें नंबर तीन पर ही बल्लेबाजी के लिए आना पड़ा. इसे टीम इंडिया की हार का सबसे बड़ा कारण माना जा रहा है. नंबर चार के मजबूत न होने से टीम बिखरती चली गई और संभल नहीं पाई. इसका खामियाजा टीम को टूर्नामेंट से बाहर होकर चुकाना पड़ा.
टाइम्स ऑफ इंडिया के अनुसार, रिजर्व डे पर भारतीय पारी का आगाज हुआ तो कप्तान कोहली नंबर तीन पर बल्लेबाजी के लिए ड्रेसिंग रूम के अंदर पैड पहनकर बैठे थे. लेकिन जल्दी ही उन्होंने कोच रवि शास्‍त्री, सहायक कोच संजय बांगड और एमएस धोनी के पास चर्चा करने के लिए गए. उन्होंने कहा कि य‌दि वह नंबर चार पर बल्लेबाजी करने जाएं तो ठीक रहेगा.
विराट चाहते थे कि पंत या पंड्या पहले जाकर कुछ ओवर बल्लेबाजी करें. इससे विकेट की नमी कम हो जाएगी. लेकिन मैनेजमेंट ने उनकी बात नहीं मानी और रोहित का विकेट गिरने के बाद कोहली को अपने पुराने स्‍थान पर ही आना पड़ा.