माइग्रेन की समस्या को दूर करता है अदरक

अदरक का इस्तेमाल खाने का स्वाद बढ़ाने के लिए किया जाता है .इसके अलावा कई लोगों को अदरक वाली चाय पीना बहुत पसंद होता है. खासकर सर्दियों के मौसम में शरीर को गर्म रखने और सर्दी जुकाम से बचाव के लिए अदरक का इस्तेमाल किया जाता है, पर क्या आप जानते हैं कि अदरक दर्द से छुटकारा दिलाने में भी मदद करता है .अदरक के रस में भरपूर मात्रा में दर्द निवारक गुण मौजूद होते हैं. इसके अलावा अदरक में शक्तिशाली एंटीऑक्सीडेंट्स की भी भरपूर मात्रा पाई जाती है. जो लिपिड पैराक्सीडेशन और डीएनए को नुकसान पहुंचने से रोकती है.
1- कच्चे अदरक को पीसकर दर्द वाली जगह पर लगाने से मांस पेशियों की सूजन, नसों की सूजन, मोच और गठिया के दर्द से आराम मिलता है.
2- अदरक में नेचुरल गुण मौजूद होते हैं इसलिए इसका कोई साइड इफेक्ट भी नहीं होता है. आयुर्वेद में अदरक को जोड़ों के दर्द, जी मिचलाना जैसी समस्याओं के लिए भी इस्तेमाल किया जाता है.
3- माइग्रेन की समस्या होने पर अदरक को पीसकर अपने सिर में लगाएं. ऐसा करने से आपको दर्द से आराम मिलेगा .
4- नहाने के पानी में अदरक का रस मिलाकर नहाने से जोड़ों के दर्द की समस्या दूर हो जाती है. यह गठिया के मरीजों के लिए बहुत फायदेमंद होता है.
5- अदरक में जिंजरोल नामक तत्व मौजूद होता है जो जोड़ों और मांसपेशियों के दर्द को कम करता है. एक रिसर्च के मुताबिक ओस्टियोआर्थराइटिस से पीड़ित मरीजों को अदरक का सेवन करना चाहिए. ऐसा करने से उन्हें आराम मिलेगा.