फर्जी निकली राहुल गांधी की जालोर रैली की भीड़ की तस्वीरें

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 25 अप्रैल को वाराणसी पहुंचे, तो राहुल गांधी भी इस दिन राजस्थान के दौरे पर थे. वहां पर राहुल गांधी ने चुनावी रैलियां भी की थी. इस बीच कुछ तस्वीरों के जरिए दावा किया जा रहा है कि राहुल गांधी की इस जनसभा में भी अच्छी खासी भीड़ मौजूद थी. तस्वीरों में मैदान में भारी भरकम भीड़ देखी जा सकती है. कहा जा रहा है कि ये तस्वीरें जालोर में हुई राहुल गांधी की चुनावी सभा की हैं.

सबुक पेज ने चार तस्वीरें शेयर करते हुए कैप्शन में लिखा, ‘कांग्रेस अध्यक्ष #राहुल_गांधी जी आज जालोर (राज.) के पावन धरा पर पधारने पर लाखों की भीड़ ने उनका किया जोर-शोर से स्वागत किया. पूरे देश में ‘न्याय’ की गूंज सुनाई पड़ रही है और राजस्थान की जनता तय कर चुकी है कि कांग्रेस के हाथ में ही देश और प्रदेश का भविष्य सुरक्षित है.’ खबर लिखे जाने तक इस पोस्ट को दो हजार से ज्यादा बार तक शेयर किया जा चुका था.
फेसबुक यूजर  ने भी इन तस्वीरों को जालोर की बताते हुए शेयर किया है. लोकसभा चुनाव के चौथे चरण से पहले कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी राजस्थान के अजमेर, जालोर और कोटा में चुनाव प्रचार के लिए गए थे.
1_042619061025.jpg
वायरल हो रही इन चार तस्वीरों में से पहली दो तस्वीरों में भारी जन सैलाब दिखाई देता है. इन तस्वीरों को रिवर्स सर्च करने पर पता चला कि ये 10 नवंबर 2013 को हरियाणा के सोनीपत में हुई भूपेंद्र सिंह हुड्डा की रैली की हैं. हुड्डा उस समय हरियाणा के मुख्यमंत्री थे और उन्होंने यहां हरियाणा शक्ति रैली को संबोधित किया था. हमें गेटी इमेजिस पर ये दोनों ही तस्वीरें  इस रैली की अन्य तस्वीरों के साथ मिलीं. ये तस्वीरें पिछले साल राजस्थान विधानसभा चुनाव के समय भी वायरल हुई थीं, उस समय  ने इसका सच बताया था.
2_042619061433.jpg
वायरल हो रही तस्वीरों में से तीसरी तस्वीर में राहुल गांधी स्टेज पर हाथ जोड़कर जनता का अभिवादन करते नजर आते हैं. वहीं चौथी तस्वीर में राहुल गांधी, राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और राजस्थान के उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट के साथ नजर आ रहे हैं. यह दोनों ही तस्वीरें जालोर रैली की हैं. इस जनसभा की कुछ तस्वीरें गहलोत ने अपने पर साझा की हैं. इनमें से एक तस्वीर में सबसे बाईं तरफ खड़ा व्यक्ति वायरल तस्वीर में भी दिख रहा है. वहीं स्टेज की सजावट भी दोनों तस्वीरों में मेल खा रही हैं.
3_042619061645.jpg
4_042619061750.jpg
चौथी तस्वीर में ‘शिव स्टूडिया जालोर’ का वॉटरमार्क नजर आता है. अशोक गहलोत ने जो तस्वीरें ट्विटर पर शेयर की थीं, उन तस्वीरों पर भी यह वॉटरमार्क था. इंडिया टुडे एंटी फेक न्यूज वॉर रूम ने शिव स्टूडियो के मालिक किशोर कुमार से संपर्क किया, जिन्होंने यह पुष्टि की कि यह तस्वीर जालोर की ही है और उन्होंने गुरुवार को ही इस तस्वीर को क्लिक किया था.
पड़ताल में साफ हुआ कि वायरल हो रही चार तस्वीरों में से दो तस्वीरे भूपेंद्र सिंह हुड्डा की साल 2013 में हुई सोनीपत रैली की हैं, जबकि दो तस्वीरें राहुल गांधी की गुरुवार को हुई जालोर विशाल जनसभा की ही हैं.