कितनी हानिकारक है आपकी सेहत के लिए E सिगरेट

ई-सिगरेट से स्वास्थ्य को होने वाले नुकसान के बावजूद लोगों में तेजी से इसका चलन बढ़ रहा है. ज़माना बदल रहा है और ऐसे में उनके लिए ये फैशन का हिस्सा बन रहा है लेकिन आपको बता दें कि किस तरह से आपकी सेहत को नुकसना पहुंचता है. मुंबई में इसके सेवन को लेकर किए गए एक सर्वे के अनुसार, ज्यादातर युवा ई-सिगरेट का सेवन केवल दिखावे के लिए करते हैं. बातें सामने आई है तंबाकू नियंत्रण के लिए काम करने वाली संस्था सलाम बॉम्बे फाउंडेशन के सर्वे में. आइये आपको बता देते हैं कि कितना नुकसान कर रही है ये आपको. 
वर्ल्ड नो टोबैको डे से पूर्व महानगर में तंबाकू सेवन के इस नए चलन को समझने के लिए संस्था ने मुंबई के 300 से अधिक युवाओं पर एक सर्वे किया, जिसके परिणाम होश उड़ाने वाले हैं. आपको बता दें, सर्वे में हिस्सा लेने वालों में से 73 प्रतिशत लोग ई-सिगरेट, जिसे निकोटीन डिलीवरी सिस्टम (ईएनडीएस) के नाम से भी जाना जाता है, के बारे में पहले से जानते थे.  इसमें से 33 प्रतिशत युवाओं ने कभी न कभी इसके सेवन की बात को भी स्वीकार किया. वहीं हैरानी की बात ये है कि 56 प्रतिशत युवाओं को लगता है कि ई-सिगरेट दूसरे किसी तंबाकू उत्पादों की तुलना में कम हानिकारक है. 
घातक है ई-सिगरेट 
आपकी जानकारी के लिए बता दें, इसमें इस्तेमाल होने वाले हानिकारक केमिकल को लेकर डॉक्टर अक्सर लोगों को सचेत करते रहते हैं. बावजूद इसके इसके सेवन को लेकर कमी नहीं आ रही है. इस पर एक्सपर्ट ने बताया कि दूसरी सिगरेटों की तरह ही ई-सिगरेट भी स्वास्थ्य के लिए बेहद हानिकारक है. इससे कैंसर जैसी घातक बीमारियों के होने के भी साक्ष्य मिले हैं. ई-सिगरेट लॉबी काफी बड़ी है नतीजतन उनकी तरफ से लोगों को गुमराह किया जाता है और ई-सिगरेट को कम हानिकारक बताकर इसका दुष्प्रचार किया जा रहा है.