नरेन्‍द्र दामोदर दास मोदी ने लगातार दूसरी बार संभाली देश की कमान

नरेन्‍द्र दामोदर दास मोदी ने लगातार दूसरी बार संभाली देश की कमान
नरेन्‍द्र दामोदर दास मोदी ने लगातार दूसरी बार संभाली देश की कमान

नई दिल्‍ली। नरेन्‍द्र दामोदर दास मोदी ने लगातार दूसरी बार प्रधानमंत्री पद की शपथ ग्रहण करके देश की बागडोर संभाल ली है। राष्ट्रपति भवन में आयोजित समारोह के दौरान राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने पीएम मोदी को पद एवं गोपनीयता की शपथ दिलाई। पीएम के बाद पिछली सरकार में गृह मंत्री रहे लखनऊ से बीजेपी के सांसद राजनाथ सिंह ने पद एवं गोपनीयता की शपथ ली। ऐसे में साफ है कि मोदी सरकार 2.0 में उनका कद दूसरे नंबर का होगा। सरकार में तीसरे नंबर पर अमित शाह ने कैबिनेट मंत्री के तौर पर शपथ ली।
गडकरी, निर्मला, पासवान, प्रसाद ने ली शपथ
सरकार में चौथे मंत्री के तौर पर नितिन गडकरी ने शपथ ली। इसके बाद सदानंद गौड़ा ने अंग्रेजी में पद एवं गोपनीयता की शपथ ली। इससे पहले पीएम और तीन अन्य मंत्रियों ने हिंदी में शपथ ली। पिछली सरकार में रक्षा मंत्री रहीं निर्मला सीतारमण, NDA के सहयोगी दल एलजेपी के प्रमुख रामविलास पासवान, नरेंद्र सिंह तोमर, पटना साहिब से जीते रविशंकर प्रसाद ने भी मंत्री पद की शपथ ली।
हरसिमरत और प्रमुख दलित नेता गहलोत ने ली शपथ
इसके बाद हरसिमरत कौर बादल ने कैबिनेट मंत्री के तौर पर पद एवं गोपनीयता की शपथ ली। अकाली दल की प्रमुख नेता हरसिमरत पिछली सरकार में खाद्य एवं प्रसंस्करण मंत्री थीं। पिछली सरकार में सामाजिक न्याय मंत्री रहे थावर चंद गहलोत ने भी शपथ ली। वह बीजेपी के प्रमुख दलित नेताओं में गिने जाते हैं।
पूर्व विदेश सचिव जयशंकर भी होंगे कैबिनेट मंत्री
पूर्व विदेश सचिव रहे डॉ. एस. जयशंकर ने भी कैबिनेट मंत्री के तौर पर शपथ ली। अमेरिका से न्यूक्लियर डील के अलावा चीन के साथ डोकलाम विवाद को बेहतर तरीके से सुलझाने में उनकी बड़ी भूमिका थी। वह चीन और अमेरिका में भारत के राजदूत रहे हैं।
उत्तराखंड और झारखंड से भी मंत्री
उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमेश पोखरियाल निशंक ने कैबिनट मंत्री के तौर पर शपथ ली। 3 बार झारखंड के मुख्यमंत्री रहे अर्जुन मुंडा ने भी गुरुवार को कैबिनेट मंत्री के तौर पर शपथ ली। वह राज्य के खूंटी से बीजेपी के सांसद हैं।
राहुल को हराने वाली स्मृति भी सरकार में
अमेठी से कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष राहुल गांधी को लोकसभा चुनाव में हराने वाली स्मृति इरानी को मोदी कैबिनेट 2.0 में शामिल किया गया है। उन्होंने कैबिनेट मंत्री के तौर पर शपथ ली। इसके बाद पिछली सरकार में स्वास्थ्य मंत्री रहे डॉ. हर्षवर्धन, मानव संसाधन विकास मंत्री रहे प्रकाश जावड़ेकर और रेल मंत्री रहे पीयूष गोयल ने कैबिनेट मंत्री के तौर पर शपथ ली। ओडिशा से ताल्लुक रखने वाले और पिछली सरकार में पेट्रोलियम मंत्री रहे धर्मेंद्र प्रधान ने भी कैबिनेट मंत्री के तौर पर शपथ ली।
मुस्लिम चेहरे नकवी को भी कैबिनेट में जगह
बीजेपी के जाने-माने मुस्लिम चेहरे मुख्तार अब्बास नकवी ने भी कैबिनेट मंत्री के तौर पर पद की शपथ ली। पिछली सरकार में अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री थे। उन्होंने लोकसभा चुनाव नहीं लड़ा था। संघ से जुड़े रहे और धारवाड़ (कर्नाटक) से सांसद प्रह्लाद जोशी ने 20वें कैबिनेट मंत्री के तौर पर शपथ ली।
महेंद्र नाथ पांडे का प्रमोशन, शिवसेना से सावंत मंत्री
चंदौली से सांसद और यूपी के बीजेपी अध्यक्ष महेंद्र नाथ पांडे ने भी कैबिनेट मंत्री के तौर पर पद की शपथ ली। वह पिछली सरकार में मानव संसाधन राज्य मंत्री रह चुके हैं। आपको बता दें कि यूपी में एसपी-बीएसपी के महागठबंधन के बावजूद बीजेपी ने शानदार प्रदर्शन किया है। ऐसे में यह उनका प्रमोशन कहा जा सकता है। अरविंद सावंत ने शिवसेना कोटे से कैबिनेट मंत्री के तौर पर शपथ ली। इन्होंने मुंबई कांग्रेस के अध्यक्ष मिलिंद देवड़ा को हराया है।
गिरिराज सिंह को भी बनाया गया कैबिनेट मंत्री
बेगूसराय से जीते बीजेपी के फायरब्रैंड नेता गिरिराज सिंह ने कैबिनेट मंत्री के तौर पर शपथ ली। वह पिछली सरकार में लघु-मध्यम उद्योग मंत्री थे। नवादा सीट बदले जाने से वह कई दिनों तक पार्टी नेतृत्व से नाराज रहे थे। हालांकि बेगूसराय में उन्होंने बड़े अंतर से जीत दर्ज की और कन्हैया कुमार को हराया। इसके बाद राजस्थान के बड़े नेता और जोधपुर से सांसद गजेंद्र सिंह शेखावत ने कैबिनेट मंत्री के तौर पर शपथ ली। शेखावत ने लोकसभा चुनाव में अशोक गहलोत के बेटे को हराया।
राहुल, सोनिया, केजरीवाल मौजूद
कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी, UPA अध्यक्ष सोनिया गांधी, पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल भी समारोह में मौजूद हैं। यहां पहुंचने वाले फिल्मी सितारों में शाहिद कपूर, कंगना रनौत के अलावा प्रमुख उद्योगपति अनिल अंबानी और उनकी पत्नी नीता अंबानी तथा एसपी के दिग्गज नेता मुलायम सिंह यादव भी शामिल हैं।
सरकार में शामिल नहीं होगी JDU
उधर, बिहार के मुख्यमंत्री और जेडीयू के अध्यक्ष नीतीश कुमार ने कहा है कि केंद्र सरकार में उनकी पार्टी शामिल नहीं होगी। उन्होंने पत्रकारों से कहा कि केंद्र में इस तरह से सांकेतिक भागीदारी में कोई दिलचस्पी नहीं है। दरअसल, जेडीयू को कैबिनेट में एक पद ऑफर किया गया था जो उसे रास नहीं आया।
-एजेंसियां

The post नरेन्‍द्र दामोदर दास मोदी ने लगातार दूसरी बार संभाली देश की कमान appeared first on updarpan.com.