अजवाइन, पाचक, गर्म, चटपटी होती है। पाचक औषधियों में इसका सर्वाधिक उपयोग किया जाता है।
1. अजवाइन खाने को पचाने में मदद करती है, अजवाइन के सेवन से कब्ज, पेट का दर्द, वायु गोला में राहत मिलती है।
2. छाती के दर्द में भी अजवाइन बेहद लाभकारी है। हिचकी, उल्टी का रूकना आदि में यह फायदा पहुंचाती है।


3. अजवाइन खाने से सर्दी जुकाम में लाभ मिलता है। इसके अलावा इसका धुआं लेने से सर्दी में राहत मिलती है। यह शरीर के भारीपन को दूर करने में सहायक होती है।
4. अजवाइन को काले नमक के साथ मिलाकर गर्म पानी के साथ खा ले, या फिर उसका चूर्ण बना लें ऐसा करने से पेट में गैस बनना बंद होती है।
5. गर्म पानी के साथ लेने से पेट का दर्द और मंदाग्नि मिट जाती है।


6. सूखी खासी यदि हो तो अजवाइन को पान में रखकर चबा कर खाने से सूखी खांसी में लाभ मिलता है।
7. जोड़ों का दर्द- अजवाइन के तेल की मालिश करने से जोड़ों के दर्द में राहत मिलती है।
8. बच्चों की उल्टी और दस्त मिटाने के लिए अजवाइन को पीसकर बच्चे को दूध के साथ पिला दें। आराम मिलेगा।
9. चर्म रोग में अजवाइन को पानी में भिगोकर, पीसकर इसका लेप करने से दाद, खाज, खुजली आदि में लाभ मिलता है।