खेलों में निखर रही Rajiv International स्कूल के छात्रों की प्रतिभा

मथुरा। जीतने की इच्छा सभी में होती है पर जीतने के लिए तैयारी करने की इच्छा बहुत कम लोगों में होती है, यह अच्छी बात नहीं है। खेलों में सफलता हासिल करने के लिए नियमित अभ्यास जरूरी है। पढ़ाई के साथ आज खेलों में भी शानदार करियर है लिहाजा हमें पढ़ाई के साथ-साथ प्रतिदिन कुछ समय खेलों के लिए भी देना चाहिए उक्त सारगर्भित उद्गार आर.के. एजूकेशन हब के चेयरमैन डा. रामकिशोर अग्रवाल ने Rajiv International स्कूल में चल रहे विभिन्न खेलों के प्रशिक्षण शिविरों के अवलोकन अवसर पर प्रशिक्षणार्थी छात्र-छात्राओं को सम्बोधित करते हुए व्यक्त किए।

Rajiv International स्कूल के प्रबंध निदेशक मनोज अग्रवाल ने छात्र-छात्राओं से कहा कि अभ्यास ईमानदारीपूर्वक होना चाहिए यानी जितनी देर हम अभ्यास करें पूरे ध्यान व लगन के साथ करें। उन्होंने सफलता के लिए सकारात्मक सोच को भी महत्वपूर्ण बताया और कहा कि अगर हम किसी से दिशा-निर्देश पा रहे हैं तो उसकी भी सोच सकारात्मक हो, ऐसे सोच वाले ही सफलता के लिए प्रेरित कर सकते हैं।

इस अवसर पर प्राचार्य डा. शैलेन्द्र सिंह ग्रेवाल ने कहा कि जीवन में सफलता और परिश्रम एक-दूसरे के पूरक हैं इसलिए जीत की इच्छा रखने वाले छात्र-छात्राओं को कठोर परिश्रम के लिये हमेशा तैयार रहना चाहिए। उन्हें मैदानों में जो प्रशिक्षण दिया जा रहा है उसका अभ्यास निरंतर किया जाना जरूरी है। डा. ग्रेवाल ने कहा कि खेलों में सफलता का कोई भी शार्टकट रास्ता नहीं हो सकता लिहाजा हर छात्र और छात्रा को प्रतिदिन अपने प्रशिक्षकों की देख-रेख में अभ्यास करना चाहिए। डा. ग्रेवाल ने छात्र-छात्राओं को सफल अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ियों से प्रेरणा लेने का आह्वान भी किया।

ज्ञातव्य है कि इन दिनों राजीव इंटरनेशनल स्कूल में विभिन्न खेलों के ग्रीष्मकालीन शिविर चल रहे हैं। छात्र-छात्राओं को फिट रखने के लिए जहां अन्य व्यायामों की तरह ही एरोबिक एक्सरसाइज कराई जा रही है वहीं प्रशिक्षक अजय यादव, रजत चौधरी, हरगोविन्द, लक्ष्मीकांत, प्रसंता चौधरी, छत्रपाल आदि बच्चों को हॉर्स राइडिंग, लान टेनिस, टेबल टेनिस, क्रिकेट, चैस, कैरम, स्केटिंग, ताइक्वांडो आदि में भी प्रशिक्षण दे रहे हैं।

The post खेलों में निखर रही Rajiv International स्कूल के छात्रों की प्रतिभा appeared first on updarpan.com.