मोदी के शपथग्रहण समारोह में इमरान को न बुलाने पर पाकिस्‍तान ने दी प्रतिक्रिया

कराची। पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महसूद कुरैशी ने कहा कि भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के शपथ ग्रहण में पाक पीएम को नहीं बुलाने का कारण आतंरिक राजनीति है। पाक विदेश मंत्री ने दोनों देशों के बीच बातचीत के जरिए महत्वपूर्ण मुद्दे सुलझाने की बात जरूर कही।
पाकिस्तान ने नरेंद्र मोदी के शपथग्रहण समारोह में पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान को आमंत्रित नहीं करने के भारत के फैसले को खास महत्व नहीं देने की बात कही। पाक के विदेश मंत्री ने कहा कि भारतीय प्रधानमंत्री की आंतरिक राजनीति उन्हें अपने पाकिस्तानी समकक्ष को आमंत्रित करने की इजाजत नहीं देती। सरकार ने सोमवार को नई दिल्ली में घोषणा की कि प्रधानमंत्री के शपथ ग्रहण में बिमस्टेक देशों के नेताओं को आमंत्रित किया है।
पाकिस्तान इस क्षेत्रीय समूह का सदस्य नहीं है। बिमस्टेक (बहु-क्षेत्रीय तकनीकी एवं आर्थिक सहयोग के लिए बंगाल की खाड़ी पहल) में बांग्लादेश, भारत, म्यांमार, श्रीलंका, थाईलैंड, भूटान और नेपाल शामिल हैं। खान को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के शपथग्रहण में आमंत्रित नहीं किए जाने पर पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने प्रतिक्रिया दी। उन्होंने कहा कि कश्मीर मुद्दे के साथ ही सियाचिन एवं सर क्रीक विवादों का हल निकालने के संबंध में बातचीत के लिए एक बैठक करना शपथ ग्रहण समारोह में शामिल होने से ज्यादा महत्त्वपूर्ण होगा।
डॉन समाचारपत्र ने कुरैशी के हवाले से कहा, ‘उनका (प्रधानमंत्री मोदी) समूचा ध्यान (चुनाव प्रचार के दौरान) पाकिस्तान पर निशाना साधने में रहा। उनसे यह उम्मीद करना सही नहीं होगा कि वह इस विमर्श से (जल्दी) बाहर आएं।’ उन्होंने कहा, ‘भारत की आंतरिक राजनीति उन्हें ऐसा करने की इजाजत नहीं देती।’ बता दें कि 26 मई 2014 को नरेंद्र मोदी के शपथ ग्रहण समारोह में पाकिस्तान के तत्कालीन प्रधानमंत्री नवाज शरीफ शामिल हुए थे। उस वक्त दक्षेस देशों के नेताओं को आमंत्रित किया गया था।’
-एजेंसियां

The post मोदी के शपथग्रहण समारोह में इमरान को न बुलाने पर पाकिस्‍तान ने दी प्रतिक्रिया appeared first on updarpan.com.