दुनिया के सबसे बड़े देश में है सिर्फ 1 ATM, फिर भी लोगों को कोई दिक्कत नहीं, मज़े से निकालते हैं पैसे

अंटार्कटिका के मैकमर्डो स्टेशन (McMurdo Station) पर ये ATM मशीन वेल्स फर्गो (Wells Fargo) ने लगाई. वेल्स फर्गो बैंकिंग समूह है, जो एटीएम मशीन लगाता है. 

खास बातें

  1. इस देश में है सिर्फ 1 ATM मशीन
  2. क्षेत्रफल के हिसाब से दुनिया का सबसे बड़ा देश
  3. 1998 में लगाई गई थी एटीएम मशीन

नई दिल्ली: 

जी हां, आपने सही पढ़ा. दुनिया में एक ऐसा देश भी है जहां सिर्फ 1 ATM मशीन है और ये क्षेत्रफल के हिसाब से दुनिया का सबसे बड़ा देश है. इस देश का नाम है अंटार्कटिका (Antarctica). सर्दियों में माइनस 60 सेल्सियस डिग्री तक टेम्परेचर वाले इस देश में 1998 में दो एटीएम मशीन लगाई गईं, जिनमें से अब एक ही काम करती है. 
अंटार्कटिका के मैकमर्डो स्टेशन (McMurdo Station) पर ये ATM मशीन वेल्स फर्गो (Wells Fargo) ने लगाई. वेल्स फर्गो बैंकिंग समूह है, जो एटीएम मशीन लगाता है. 
नासा (NASA) के मुताबिक अंटार्कटिका के मैकमर्डो स्टेशन की आबादी 250 से 1250 के आस-पास है, जो कि इस देश में सबसे ज्यादा लोगों वाली जगह है. इसके अलावा अंटार्कटिका में इससे कम आबादी ही रहती है. मैकमर्डो स्टेशन के लोगों के लिए यहां कॉफी शॉप, जनरल स्टोर्स, बार्ड और पोस्ट ऑफिस हैं, जिनमें से कुछ सिर्फ कैश ही लेते हैं. इस वजह से इस शहर में एटीएम लगवाया गया. 
siak27jo
अंटार्कटिका के मैकमर्डो स्टेशन (McMurdo Station) की तस्वीर
वेल्स फर्गो (Wells Fargo) के मुताबिक गिनीज़ वर्ल्ड ऑफि रिकॉर्ड्स (Guinness Book of World Records) के मुताबिक मैकमर्डो स्टेशन पर मौजूद इस एटीएम के नाम सुदूर दक्षिण भाग में मौजूद एकलौता एटीएम होने का रिकॉर्ड दर्ज है. इसके साथ ही ये अंटार्कटिका के पूरे महाद्वीप पर मौजूद एकमात्र एटीएम है.
वेल्स फर्गो के वाइस प्रेज़िडेंट डेविड पार्कर के मुताबिक, यहां लोगों को कैश की खास जरुरत नहीं होती, बावजूद एटीएम मशीन में कैश निर्धारित समय पर डाला जाता है. साथ ही इस एटीएम की भी साल दो साल में  सर्विस की जाती है. 
Image result for antarctica atm
पार्कर ने इन दो एटीएम में से सिर्फ एक चलने की वजह बताई, कि दूसरे एटीएम का इस्तेमाल पहले वाले को चालू रखने के लिए किया जाता है. जैसे कोई स्पेयर पार्ट खराब होता है तो दूसरे एटीएम से निकाल लिया जाता है. 
बता दें, अंटार्कटिका देश पूरे 14 मिलियन किलोमीटर एरिया में फैला हुआ है. यह दुनिया का सबसे ठंडा, बर्फिली हवाओं वाला सबसे सूखा महाद्वीप है. अंटार्कटिका का 90 से ज्यादा प्रतिशत एरिया सिर्फ बर्फ से ढका है. इस देश का रिकॉर्ड टेम्परेचर साल 1983 में माइनस 90 डिग्री सेल्सियस तक गया था.